समय से पहले केरल पहुंचा मानसून, हरियाणा में भी जल्द मिलेगी गर्मी से राहत

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में देश बड़ी ख़बरें हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 29 May, 2018

इस बार तय समय के तीन दिन पहले ही केरल में मानसून पहुंच गया है, यहां पर कई इलाकों में मानसून की बारिश भी हुई है। वहीं मानसून के आने से हरियाणा में भी इस बार जल्द ही लोगों को गर्मी से निजात मिलने की संभावना है।

इस बार हरियाणा में मानसून चार से पांच दिन पहले ही पहुंच जाएगा और लोगों को तपती गर्मी से राहत मिलेगी। वहीं किसानों के लिए भी इस बार मानसून में झमाझम बारिश होगी।

मौसम विभाग के मुताबिक इस बार मानसून से देश के 80 फीसदी इलाकों में बारिश होने की उम्मीद है। वहीं तटीय  इलाकों में मानसून के पहुंचते ही बारिश होनी शुरु हो गई है।

जून के महीने में देश के सभी इलाकों में बारिश होगी वहीं इस बार अच्छी बारिश के आसार जताए जा रहे हैं।

हरियाणा के ज्यादातर इलाकों में इस बार तेज और झमाझम बारिश होने की संभावना है वहीं अच्छी बारिश के चलते किसानों को अच्छी पैदावार होने की उम्मीद है।

मौसम जानकारों की माने तो हरियाणा में हर बार 25 जून से जुलाई के शुरुआती दिनों में मानसून की बारिश आती है, लेकिन इस बार जून के तीसरे सप्ताह यानि 20 जून के आसपास की मानसून पहुंच सकता है।

आपके लिए चिंता की बात नहीं बल्कि सुकून की बात है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक इस साल मानसून सामान्य रहेगा। खराब मानसून की संभावना बहुत कम हैं। इस बार बारिश की कोई कमी नहीं रहेगी, क्योंकि बारिश बहुत अच्छे स्तर पर होगी।

मौसम विभाग ने इस साल 97 फीसदी बारिश का अनुमान जताया है। जिस कारण खरीफ फसलों की बुआई काफी हद तक अच्छी हो सकती है।

मानसून की शुरूआत मई के मध्य में हो जाएगी और खास बात ये है कि वो अपने निर्धारित समय पर ही आएगा।

बता दें कि देश में उस मानसून को सामान्य माना जाता है जब औसत बारिश, लंबी अवधि के औसत का 96 से 104 फीसद रहती है। वहीं, देश में मानसून के चार महीने (मई, जून, जुलाई और अगस्त) में जितनी बारिश होती है, उसका पूरे साल की बारिश में लगभग 70 प्रतिशत हिस्सा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *