स्कूल में गायत्री मंत्र से होगी दिन की शुरुआत

हरियाणा हरियाणा विशेष

हरियाणा के सरकारी स्कूलों के बच्चों को अब ढोंग और पाखंड से बचाने के लिए शिक्षा विभाग ने मुहिम शुरू की है। इसके तहत न केवल बच्चों में अंधविश्वास कम किया जाएगा, बल्कि प्रार्थना में गायत्री मंत्र अनिवार्य करने की योजना है। सरकार का मानना है कि ऐसा करने से राज्य के स्कूलों का माहौल सुधरेगा और बच्चे मन लगाकर पढ़ाई कर सकेंगे।

शिक्षा निदेशालय ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। स्कूलों में अंधविश्वास की पोल खोलने की जिम्मेदारी सोसायटी और सामाजिक संगठनों को सौंपी गई है। ज्यादातर मामलों में कथित बाबाओं की ज्यादातर अनुयायी महिलाएं और लड़कियां ही होती हैं। इसलिए छात्राओं को स्कूल स्तर पर ही कथित चमत्कारों के खिलाफ जागरूक करने की योजना बनाई गई है। पहले चरण में प्रदेश के सभी 32 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में जाकर सोसायटी के सदस्य, साइंस के अध्यापक और सामाजिक संगठन अंधविश्वास की पोल खोलेंगे।