मां- बेटे ने आसन कर रचा नया रिकॉर्ड, गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हुआ नाम

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Bhiwani, 16Feb, 2019

भिवानी की चांदनी महेश्वरी और उसके बेटे लक्ष्य ने आसन कर एक नया कीर्तिमान रच दिया है,जिसे अभी तक बाबा रामदेव भी नहीं कर पाए है। चांदनी ने  में 12 घंटे 4 हजार 682 बार सूर्य नमस्कार कर एक नया रिकॉर्ड बना दिया है। जिसकी गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड की चार सीसीटीवी कैमरों के माध्यम सें रिकार्डिंग भी की गई। चांदनी ने इस उपलब्धि का श्रेय योगा टीचर रविंद्र और डा. मदन मानव को दिया है।

वहीं 11 वर्षीय लक्ष्य ने जूनियर वर्ग में भूनम्रासन में एक घंटा दस मिनट का आसन कर रिकॉर्ड बनाया है। करीब दो वर्ष पहले चांदनी ने रविंद्र की मदद से सूर्य नमस्कार की शुरूआत की थी। स्थानीय बिट्स इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम का आयोजन भारत स्वाभिमान पतंजलि योग समिति एंव महिला योग समिति के सहयोग से किया गया था।

डॉक्टर मानव ने कहा कि चार सीसीटीवी एंव डाक्टर और एक्सपर्ट टीम की निगरानी में यह रिकार्ड बनाया गया है। इससे पहले भिवानी की सरिता ने 3737 बार सूर्य नमस्कार कर रिकार्ड बनाया था, जिसको चांदनी महेश्वरी ने तोड़ दिया है।

चांदनी ने कहा कि योग से 80 प्रतिशत बीमारियों को ठीक किया जा सकता है। सूर्य नमस्कार एक ऐसा योग है, जिससे सिर से लेकर पैर की उंगली तक में रक्त संचारण हो जाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *