प्रदेश में एक और भर्ती में हुआ घोटाला,380 मल्टी पर्पज हेल्थ वर्करों की भर्ती पर हाईकोर्ट की रोक

Uncategorized

Yuva Haryan

Chandigarh (25 March 2018)

हरियाणा में भर्तीयों पर रोक अब आम सी बात हो गई है। अब मामला है 380 मल्टी पर्पज हेल्थ वर्करों की भर्ती प्रक्रिया का जिसपर हाइकोर्ट ने कार्रवाई करते हुए रोक लगा दी है। बता दें कि इस भर्ती में धांधली का आरोप लगाते हुए याचिकाए दाखिल की गई थी। जिस पर पंजाब हरियाणा हाइकोर्ट ने कार्यवाही करते हुए रोक लगा दी है। इसके साथ ही हरियाणा सरकार और हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

हाइकोर्ट को बताया गया कि सरकार ने मल्टी पर्पज हेल्थ वर्करों के 380 पदों के लिए भर्ती निकाली थी। 12वीं कक्षा और ANM का कोर्स शैक्षणिक योग्यता बताई गई थी। वकील एमडी खान ने कोर्ट को बताया कि याचिकाकर्ता गीता ने ओएसपी एससी कोटा में अवेदन किया था। लिखित परीक्षा में वह पास हो गई और उसे डाक्यूमेंटस की वेरिफिकेशन के लिए बुलाया गया। इसके बाद उसे इंटरव्यू के लिए बुलाया गया।

इंटरव्यू में कोई और इस श्रेणी का आवेदक नहीं था। इसके बावजूद जब इंटरव्यू का परिणाम आया तो उसके स्थान पर किसी अन्य उम्मीदवार को दर्शाया गया जो उस श्रेणी में भी नहीं आता। जिस उम्मीदवार को दर्शाया गया वह एससी श्रेणी का था जबकि याचिकाकर्ता ओएससी एससी श्रेणी की है। ऐसे में भर्ती में सीधे तौर पर धांधली होने की बात कहते हुए याचि ने कोर्ट से इंसाफ देने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *