करोड़ों के युवराज, विराट व हेमामालिनी ने कैट वॉक पर बिखेरा जलवा, सिंघवा खास में हुई राष्ट्रीय पशुधन चैम्पियनशिप

कला-संस्कृति चर्चा में हरियाणा हरियाणा विशेष

आपने और हमने लेडीज व जेंट्स का कैट वॉक तो सुना और देखा होगा लेकिन आइए आज हम आपको एक ऐसे केट वॉक के बारे में बताएंगे जिसे देखकर और सुनकर आप हैरान ही नहीं दांतों तले ऊंगली दबाने के लिए मजबूर हो जाएंगे।

जी हां, आज हम आपको बताते है पशुओं द्वारा रेम्प पर किए गए कैट वॉक की। हरियाणा में पहली बार सिंघवा गांव में देशभर की मुर्राह नस्ल की भैसों की चैम्पियनशिप का आयोजन किया गया। जिसमें ओडी गाड़ी से भी मंहगी भैसें हिस्सा लेने के लिए पहुंची।

किक्रेट में चाहे युवराज के मुकाबले विराट भारी है लेकिन आज हुई कैट वॉक में युवराज ने विराट को पछाड़कर पहला स्थान प्राप्त किया। युवराज का जनता में इतना क्रेज था कि हर कोई उनके साथ सेल्फी लेने के लिए बेताब था।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सांसद दुष्यत चौटाला ने शिरकत की। उन्होंने कहा कि देशभर में पशुपालकों का मेला लगता है तो उसमें हिसार जिले का अहम स्थान होता है। मुर्राह नस्लों की भैसों को लेकर सिंघवा गांव पुरे देश में प्रसिद्ध हैं।

उन्होंने कहा कि किसानों का ये काला धन आज भी सोना है और सोना ही रहेगा वो इस धन से अपने परिवार का पालन पोषण तो करते ही है साथ ही पुरे देश में प्रदेश का नाम रोशन कर रहे है। उन्होंने कहा की मुर्रा नस्ल की भैंस किसानों का काला सोना है।

उन्होंने कहा कि सरकार पशुपालकों के प्रति उदासीन है। वो कृषि के लिए बजट में सब्सिडी का प्रावधान तो कर देती है। लेकिन पशु पालकों के लिए आज तक कोई ठोस योजना नहीं ला पाई। आज भारत देश पूरे विश्व में दूध उत्पादन में पहले नंबर है। बजट सत्र में मांग रखी जाएगी कि पशुपालकों को भी विशेष पैकेज के तहत इनको ऊंचा उठाने का काम करे। उन्होंने इस गांव के पशु अस्पताल के लिए एक अल्ट्रासाउंड मशीन देने की घोषणा की। ताकि पशुपालकों को उपचार के लिए दूर दराज ना जाना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *