11वीं में कम नंबर आने पर, बेटी ने पिता की गन से किया सुसाइड

अनहोनी हरियाणा

Yuva Haryana

Jind, 1-04-2018

परीक्षा में कम नंबर आने या फेल हो जाने का सदमा कई बच्चे बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं।उन्हें ऐसा लगने लगता है कि वो परीक्षा में नहीं, बल्की अपनी जिंदगी में फेल हो गए हैं। अब उनके पास कुछ भी नहीं बचा है। यह सोचकर वे अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठते हैं और मौत को गले लगा लेते हैं। ऐसा ही मामला सामने आया है जींद के सिवाहा गांव का। जहां गांव की अंजली का एक दिन पहले ही ग्यारहवीं क्लास का रिजल्ट आया था। नंबर अच्छे नहीं आए तो वह परेशान हो गई।

बोली-अगली बार अच्छे नंबर लूंगी और दूसरों से आगे रहूंगी। लेकिन नंबरों के प्रेशर में अंजली ने रविवार सुबह अपने पिता की रिवाल्वर से गोली मारकर सुसाइड अंजली के पिता वेदपाल सिवाहा गांव के सरपंच है। उनके तीन लड़कियां और एक लड़का है। अंजली सबसे बड़ी थी। वह पिल्लूखेड़ा के इंडस पब्लिक स्कूल की छात्रा थी। 31 मार्च को अंजली का 11वीं कक्षा का रिजल्ट आया था।

इसमें उसके अच्छे नंबर नहीं आए। इसके बाद से वह परेशान थी। वेदपाल का कहना है कि अंजली अगली बार अच्छे नंबर लाने की बात कह रही थी।  हुआ यूं कि अंजली के पिता किसी काम से दूसरे गांव में गए हुए थे। अंजली घर में अकेली थी।

अंजली ने उनके मोबाइल पर कॉल की और बोली-पापा जल्दी से जल्दी घर आ जाओ। इतना कहकर अंजली ने फोन काट दिया। वेदपाल ने दोबारा फोन किया लेकिन उसने नहीं उठाया। घर पहुंचने पर देखा तो अंजली घर में दिखाई न दी बाथरूम से खून बाहर आ रहा था। अंजली ने बाथरूम को बंद किया हुआ था।

बाथरूम खोला तो अंदर अंजली की लाश पड़ी हुई थी। उसके पास वेदपाल की लाइसेंसी रिवाल्वर भी पड़ी थी।  घटना के बाद  मौके पर पहुंची। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए जींद सिविल अस्पताल भेजा गया।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *