भिवानी में मानव तस्करी का गोरखधंधा, लड़कियों को अगवा कर बेचा जाता था लाखों में

हरियाणा

भिवानी सिटी थाना पुलिस ने मानव तस्करी मामले में एक और कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने इस मामले में दिल्ली निवासी दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग रेलवे स्टेशन पर लड़कियों को अकेली देखकर अगवा कर लेते थे और उन्हे शादी के नाम पर लाखों रुपये में बेच रहे थे।

बता दें कि मानवता के नाम पर कलंक इस मानव तस्करी मामले का खुलासा 7 फरवरी को हुआ था। पीपली वाली जोहड़ी निवासी एक युवक ने पुलिस को सूचना दी कि उसकी मामी तस्करी कर कुछ लड़कियों को अपने घर झुपाए हुए है और उन्हें शादी के नाम पर बेचने की फिराक में है। इस मामले में कार्रवाई करते हुए सिटी थाना प्रभारी श्रीभगवान ने अपनी टीम के साथ छापेमारी कर तीन लड़कियों को बरामद किया, जिन्हे बेचे जाना था।

आरोपियों से पुछताछ के दौरान तस्करी मामले में कई नाम जुड़े मिले। पुलिस ने अपनी जांच आगे बढ़ाई और मामले में संलिप्त लोगों के ठिकानों पर छानबीन शुरू कर दी। जिसके बाद दिल्ली निवासी राजू और राज को गिरफ्तार किया गया।

सिटी थाना प्रभारी श्रीभगवान ने बताया कि शहर में मानव तस्करी का गोरखधंधा चल रहा था। जिसकी सूचना पाकर इस गोरखधंधे का भांडाफोड़ किया। उन्होंने बताया कि ये लोग गिरोह बनाकर बिहार, यूपी और झारखंड राज्यों से रेलवे स्टेशन पर अकेली लड़कियों को अगवा कर लेते और गाजियाबाद स्थित किराए के मकान पर लाकर अलग-अलग जगह शादी के बहाने कई-कई बार एक से डेढ़ लाख रुपए में बेचते थे। एसएचओ श्रीभगवान ने बताया कि भिवानी में ये लोग 10 से 12 लड़कियों को बेच चुके हैं और एक लडक़ी को तीन बार बेचा जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *