चंडीगढ़ के बुजुर्ग ने गोला फेंक में दिखाया दम, 29.17 मीटर दूर फेंका गोला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Panchkula

पंचकूला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में चल रही बुजुर्ग खेल प्रतियोगिता में चंडीगढ़ के सरदार नाहर सिंह ने 29.17 मीटर दूर गोला फेंककर दूसरा स्थान हासिल किया है। लेकिन इस प्रतियोगिता में पहला स्थान हासिल किया है अजमेर सिंह ने। अजमेर सिंह लगातार तीस सालों से सरदार नाहर सिंह से हारते आ रहे थे, लेकिन इस बार उनका 30 साल का जीत का सपना पूरा हो गया है।

पंचकूला में आयोजित इस प्रतियोगिता में अलग-अलग जगहों से काफी संख्या में बुजुर्ग हिस्सा ले रहे हैं। यहां पर बुजुर्गों के लिए अलग-अलग प्रकार की प्रतियोगिताओं को आयोजन किया गया है जिसमें पंचकूला चंडीगढ़, पंजाब समेत कई जगहों के बुजुर्ग अपनी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं।

यहां पर हैमर थ्रो की प्रतियोगिता में पंजाब के रहने वाले अजमेर सिंह का सपना करीब तीस सालों बाद पूरा हुआ है। अजमेर सिंह ने लगातार तीस सालों की हार का बदला आज ले लिया है। उन्होनें सरदार नाहर सिंह को आज हरा दिया है। अजमेर सिंह ने 30 मीटर दूर गोला फेंका था जबकि सरदार नाहर सिंह आज 29.17 मीटर दूर ही फेंक पाए।

इस जीत के बाद सरदार अजमेर सिंह ने खुशी जताते हुए कहा कि इस बार उन्हे बहुत फक्र हो रहा है और वो अपने बीबी बच्चों को जाकर बताएंगे की जिस सरदार नाहर सिंह से वो तीस सालों से लगातार हार रहे थे, आज उस नाहर सिंह को हरा दिया है। और पहला स्थान हासिल किया है।

साल 1972 से सरदार नाहर सिंह हराते थे, अजमेर सिंह जो पहले स्थान पर रहे हैं। इस बार। अजमेर सिंह ने पहली बार जीत हासिल की है। इससे पहले सरदार नाहर सिहं साल 1972 से हराते आ रहे हैं।
आपको बता दें कि दिसंबर माह में मलेशिया में आयोजित एशिया टूर्नामेंट में भी सरदार नाहर सिंह ने पहला स्थान हासिल किया था उस वक्त 31.97 सेंटीमीटर का थ्रो किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *