दिग्विजय को जीता दो, 55 साल की होते ही महिलाओं की पेंशन शुरू-नैना सिंह चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Jind, 20 Jan,2019

सांसद दुष्यंत चौटाला की मां नैना चौटाला को सुनने के लिए उनके कार्यक्रमों में न केवल खासा क्रेज है बल्कि, उनके साथ कंघे से कंध मिला कर चुनाव प्रचार में भी जुटी हैं। नैना चौटाला जेजेपी प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला के लिए वोट मांगने जहां-जहां जा रही हैं वहां उनको सुनने के लिए अपना चुल्हा-चौका छोड़ कर महिलाओं की खासी भीड़ उमड़ रही है।
खास बात यह है महिलाओं के साथ साथ युवा, बुजूर्ग और बच्चें भी अच्छी संख्या में उनकी नुक्कड़ सभाओं में शिकरत कर रही हैं। डोर-टू-डोर प्रचार के दौरान भी भीड़ गलियों में चलती दिखाई पड़ती है।
भीड़ से गदगद डबवाली से विधायक नैना सिंह चौटाला ने मतदाताओं से रूबरू होते हुए कहा कि आज जिस तरह से जननायक जनता पार्टी में प्रतिदिन बड़े-बड़े नेता शामिल हो रहे हैं, उससे साफ है कि आने वाला समय जननायक जनता पार्टी का है। इससे दूसरी पार्टियों में भगदड़ की स्थिति बनी हुई है। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री यह कह रहे हैं कि उन्हें जींद के विधायक की जरुरत नहीं है। इससे साफ है कि जींद के साथ भेदभाव के कारण लोगों ने उनको नकार दिया है।
नैना चौटाला ने कहा कि जींद क्षेत्र विकास के मामले में बहुत पिछड़ गया है, अब विकास की बारी है। जिस दिन प्रदेश में जननायक जनता पार्टी की सरकार बनेगी, उसी दिन से जींद की किस्मत अलग होगी। जींद की दशा ही बदल जाएगी। जननायक जनता पार्टी की सरकार जींद से चलेगी। आप लोगों के बीच बैठकर आपकी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए फैसले लिए जाएंगे। नैना चौटाला ने कहा कि यह केवल जींद की जीत की लड़ाई नहीं बल्कि महिलाओं के सम्मान की भी लड़ाई है।
महिलाओं को जिस प्रकार कांग्रेस व भाजपा ने प्रताडि़त किया है, अब दिग्विजय को जीताकर उस प्रताडऩा का बदला चुकाने का समय है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय ने जोर लगा कर जीता दो, दिग्विजय का विधायक बनते ही प्रदेश में2019 में जेेजेपी सरकार की बनना तय है। जेजेपी की सरकार बनते ही प्रदेश में वृद्धावस्था पेंशन के लिए महिलाओं की न्यूनतम उम्र 60 वर्ष से घटा कर 55 वर्ष की जाएगी।
उन्होंने खासकर महिलाओं से कहा कि जिस प्रकार दुष्यंत व दिग्विजय मेरे बेटे हैं, उससे अधिक हक उन दोनों पर आपका है। उनके पिता डॉ. अजय सिंह चौटाला दोनों बच्चों को आपके हवाले छोड़कर जेल गए हैं।
उनको रास्ता दिखाना अब आपका काम है और आपकी सुरक्षा व सम्मान करना उनका कर्तव्य है। जींद जिले की जनता को आपके दोनों बच्चे अपना घर समझते हैं। आप लोगों के बीच में ही रहकर उन्हें आगे बढऩा है। इस समय खासकर महिलाओं को एकजुट होकर उनकी जीत सुनिश्चित करने की जरुरत है। अब यह होड़ लगी हुई है कि कौन सी कॉलोनी कितने अधिक वोटों से दिग्विजय को जीत दिलाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *