चंडीगढ़ के GMCH को पीजीआई और एम्स से पहले मिला नियोनेटोलॉजी डिपार्टमेंट, प्रिमैच्योर शिशु का इलाज हुआ आसान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 31 July, 2018

चंडीगढ़ के सेक्टर-32 स्थित गवर्नमेंट कॉलेज एंड हॉस्पिटल में अब नियोनेटोलॉजी डिपार्टमेंट बनाया गया है। जहां पर प्रिमैच्योर बेबी और 28 दिन तक के नवजात शिशु का उपचार किया जाएगा। यह सुविधा पीजीआई और एम्स में नहीं है, वहां पर अलग से विभाग नहीं बनाया गया है।

बता दें कि उत्तर भारत के सिर्फ दो मेडिकल कॉलेज में इस डिपार्टमेंट को अलग से संचालिच किया जा रहा है, जिनमें दिल्ली का मौलाना आजाद मेंडिकल कॉलेज व हॉर्डिंग मेंडिकल कॉलेज शामिल है।

गवर्नमेंट कॉलेज एंड हॉस्पिटल के विभाग में डॉ सुक्ष्म व डॉ दीपक चावला बतौर नौनिहालों का इलाज करेंगे।

फिलहाल नियोनेटोलॉजी डिपार्टमेंट में 13 पेशैंट्स बैड्स, 13 वैंडटीलेटर और 40 के करीब फोटोथैरेपी मशीने मौजूद हैं। अब डिपार्टमेंट में कई नई मशीने और उपकरण भी लाए जाएंगे। साथ ही नियोनेटोलॉजी की पढ़ाई के लिए रेजीडेंट डॉकर्टस भी यहां आएंगे। कुछ समय पहले नई भर्तीयां भी हुई थी।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *