करनाल की नवजात करिश्मा बनी आयुष्मान योजना की पहली लाभार्थी

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन सेहत हरियाणा के खिलाड़ी हरियाणा विशेष

Karamjeet Virk, Yuva Haryana

Karnal, 2 Sep, 2018

पीएम मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत बीमा स्वास्थ्य योजना में करनाल के गांव घिसरपड़ी की मौसमी की बेटी करिश्मा को योजना की पहली लाभार्थी के रूप में चुना गया है।

इस योजना की पहली लाभार्थी बनने पर मौसमी और गांव के सरपंच सुरेन्द्र कुमार ने प्रधानमन्त्री की इस योजना की सराहना की। गांव के गरीब परिवार से सम्बंध रखने वाली मौसमी के परिवार को इस योजना में शामिल होने की सूचना पर मौसमी का परिवार काफी खुश है।

इस योजना में चयन होने के बाद मौसमी ने बताया कि वह प्रसूति के लिए 15 अगस्त को करनाल में कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती हुई थी। ऑप्रेशन द्वारा उसने बच्ची को जन्म दिया, जिसका नाम करिश्मा रखा गया है।

करिश्मा के जन्म के बाद मौसमी को आयुष्मान भारत बेबी भी कहा जा रहा है। इस योजना के तहत 15 अगस्त को ही योजना का कार्ड दिया गया था। उन्होंने इस योजना में चयन होने पर खुशी जताते हुए गरीब लोगों के लिए अन्य कई महत्वपूर्ण योजनाएं चलाने की मांग की, ताकि गरीब जनता का ओर भी भला हो सके।

गांव के सरपंच सुरेन्द्र कुमार का कहना है कि प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आरम्भ की गई आयुष्मान योजना गरीब जनता के लिए बेहद लाभप्रद होगी, देश के प्रधानमन्त्री व भाजपा सरकार गरीबों का भला कर रही है।

इस योजना में शामिल होने पर मौसमी के परिवार को 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा लाभ मिलेगा। सरकार गरीबों का वास्तव में भला करने के लिए इस तरह की अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं को लागू कर गरीबों की भलाई के कामों में तेजी लाई जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि घिसरपड़ी गांव में बेहद गरीब जनता निवास कर रही है, इसलिए इस गांव की तरफ सरकार व प्रशासन को विशेष तौर पर ध्यान देना चाहिए।

बता दें कि  केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत बीमा स्वास्थ्य योजना का लाभ मिलना शुरू हो गया है। करनाल जिले की नवजात बच्ची करिश्मा योजना की पहली लाभार्थी बनी हैं। योजना के तहत 9 हजार रुपए का भुगतान शुक्रवार को ही करनाल स्थित कल्पना चावला सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल को कर दिया गया है।

केंद्र के आयुष्मान भारत योजना के सीईओ डॉ. इंदु भूषण ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि करिश्मा का जन्म सिजेरियन से 17 अगस्त को इसी अस्पताल में हुआ था। करिश्मा को एबीबेबी यानी आयुष्मान भारत बेबी भी कहा जा रहा है।

करनाल के घिसारपुरी की रहने वाली करिश्मा की मां मौसमी देवी पत्नी अमित को योजना की शुरुआत के दिन 15 अगस्त को ही योजना का कार्ड दिया गया था।

मौसमी को उसी दिन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। भूषण ने कहा कि पहली लाभार्थी कन्या होने से वे बहुत खुश हैं। तीन और लाभार्थियों को योजना के तहत जल्द ही भुगतान किया जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *