पानीपत की निष्ठा ने 45 देशों की प्रतिभागियों को पछाड़ते हुए हासिल किया ‘मिस डेफ एशिया 2018’ का ताज

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Panipat, 25 Oct, 2018

पानीपत की 23 वर्षीय निष्ठा डुडेजा ने चेक गणराज्य में हुई 18वीं मिस डेफ वर्ल्ड 2018 प्रतियोगिता में 45 देशों की प्रतिभागियों को पछाड़ते हुए पहली बार देश को यह ताज दिलवाया है।

बता दें कि जब निष्ठा का जन्म हुआ था तो उसके माता- पिता काफी खुश थे, लेकिन 3 साल की उम्र में सामने आया कि वह न तो सुन सकती है और न ही बोल सकती है। यह जानकार माता- पिता काफी परेशान हो गए थे, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और ठान लिया कि कभी बेटी को किसी भी चीज में पीछे नहीं होने देंगे।

माता- पिता की मेहनत के बाद ही अाज निष्ठा ने पहली बार मिस डेफ एशिया का ताज हासिल करके पूरे देश का नाम रोशन किया है। जिससे उसके माता- पिता की खुशी का ठिकाना नहीं रहा है।

इस कंटेस्ट के आखिरी और फाइनल राउंड के लिए सभी प्रतिभागियों को अपने देश की वेशभूषा पहननी थी, जिसमें निष्ठा ने अपनी नानी की साड़ी पहनी और जिसके बाद वह विजेती बनी।

फिलहाल निष्ठा मुंबई के कॉलेज से अर्थशास्त्र में एमकॉम कर रही है। निष्ठा के पिता वेदप्रकाश उत्तर रेलवे में दिल्ली में चीफ इंजीनियर हैं और मां गृहणी हैं। वह बेटी की इस उपलब्धि पर काफी खुश हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *