रोडवेज की हड़ताल से जनता नहीं होगी परेशान, निकाला ये समाधान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Sonipat, 04 Sept, 2018

उपायुक्त विनय सिंह ने कहा कि हरियाणा रोडवेज की 5 सितंबर की प्रस्तावित हड़ताल से जनता को किसी भी प्रकार से घबराने की आवश्यकता नहीं है। हड़ताल के चलते आम जनमानस को कोई भी समस्या नहीं आने दी जाएगी। जनहित में हर तरह के पर्याप्त बंदोबस्त किये गये हैं, जिसके तहत बस यात्रियों के लिए 171 बसें उपलब्ध रहेंगी । वहीं, हड़ताली कर्मियों से सख्ती से निपटा जाएगा, जिनके खिलाफ एस्मा के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

उपायुक्त विनय सिंह मंगलवार को अपने कार्यालय में पुलिस-प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ हड़ताल से निपटने के लिए आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने हड़ताल से निपटने को लेकर किये गये तमाम प्रबंधों का गंभीरता से जायजा लिया। उन्होंने कहा कि उनके लिए जनहित सर्वोपरि हैं, जिनके साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा। जनहित संरक्षण के लिए पर्याप्त बंदोबस्त किये गये हैं। उन्होंने कहा कि हड़ताली कर्मचारियों की विडियोग्राफी कराई जाएगी। यदि कोई कर्मचारी सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाता पाया गया तो उसके खिलाफ एस्मा के तहत कार्रवाई की जाएगी।

उपायुक्त ने जानकारी दी कि बस यात्रियों की सुविधा के लिए जिला प्रशासन के पास पर्याप्त संख्या में बसें उपलब्ध हैं। बस यात्रियों के लिए हरियाणा रोडवेज की 90 बसें रोजाना की भांति अपने रूटों पर चलेंगी। इसके अलावा 31 बसें रजिस्टर्ड परिवहन सोसायटियों से द्वारा चलाई जाएंगी और 50 बसेंं निजी बस आप्रेटरों से ली गई हैं। यह सभी बसें बुधवार को यात्रियों के लिए अलग-अलग रूटों पर चलाई जाएंगी।

उन्होंंने कहा कि यात्रियों की सुविधा के लिए रोडवेज डिपो महाप्रबंधक बसों के रूटों की सूची व बस नंबर डिपो के अंदर चस्पा करेंगे। साथ ही पुलिस विभाग ने आपात स्थिति के दृष्टिगत तीन स्थान चिन्हित किये हैं, जहां से आपात स्थिति उत्पन्न होने पर बसें चलाई जाएंगी। इनमें अग्रसेन चौक सेक्टर-14, महलाना चौक और सुभाष चौक शामिल किये गये हैं।

उपायुक्त ने कहा कि हड़ताल के चलते लोगों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी। इसके लिए रोडवेज विभाग के साथ मिलकर पुख्ता प्रबंध किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि यदि आवश्यकता हुई तो लोगों के लिए अलग से बसें चलाई जाएंगी। बसों की कोई कमी जनता को नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस-प्रशासन तथा रोडवेज विभाग बेहतरीन तालमेल के साथ जनता की सेवा को समर्पित है।

उपायुक्त विनय सिंह ने कहा कि हड़ताल से आम लोगों को भारी दिक्कतें उठानी पड़ती हैंं। हड़ताल करने वालों को जनता की परेशानियों को समझना चाहिए। बार-बार हड़ताल किसी भी प्रकार से उचित नहीं है।

रोडवेज कर्मियों की हड़ताल सीधे तौर पर आम जनमानस को प्रभावित करती है। सरकार व प्रशासन ने जनता को हर प्रकार की परेशानी से बचाने के प्रबंध किये हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि हड़ताल में हिस्सा लेने वाले कर्मचारियों को हर प्रकार की कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहना चाहिए। जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए हड़ताली कर्मियों के साथ कोई रियायत नहीं बरती जाएगी।

इस दौरान पुलिस अधीक्षक प्रतीक्षा गोदारा ने कहा कि हड़ताल से निपटने के लिए पुलिस विभाग पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि हड़ताल के दौरान किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना नहीं होने दी जाएगी। कानून-व्यवस्था को हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। यदि कोई भी व्यक्ति कानून-व्यवस्था को हाथ में लेने का प्रयास करता पाया गया तो उसके खिलाफ पूरी सख्ती बरती जाएगी। साथ ही हड़ताली कर्मचारियों के विरूद्ध एस्मा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।

इस मौके पर उपायुक्त विनय सिंह तथा पुलिस अधीक्षक प्रतीक्षा गोदारा ने पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। साथ ही हड़ताल के दौरान किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए ड्यूटी मजिस्टे्रट भी नियुक्त किये गये।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *