सरकारी स्कूलों में तैनात अध्यापकों के स्टेट अवार्ड के लिए नामाकंन आमंत्रित, 20 जुलाई तक करें आवेदन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 06 July, 2018

हरियाणा सरकार ने राजकीय स्कूलों में कार्यरत अध्यापकों से वर्ष 2018 के लिए स्टेट अवार्ड हेतु 20 जुलाई, 2018 तक नामांकन आमंत्रित किए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने अवार्ड की सिफारिश के लिए कम से कम 50 अंक होने आवश्यक किये हैं।

विभाग के एक प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि स्टेट अवार्ड के लिए नामांकन दाखिल करने वाले अध्यापकों की दो श्रेणी बनाई गई हैं। इनमें श्रेणी ए के तहत प्राइमरी टीचर, हैड टीचर, सीएंडवी, टीजीटी तथा ईएसएचएम तथा श्रेणी बी के तहत पी.जी.टी, हाई स्कूल हैड मास्टर तथा प्रिंसिपल शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग में कार्य करने वाले अध्यापकों के वर्ग में स्टेट टीचर अवार्ड के लिए पहले संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा अध्यापक के सेवा-रिकार्ड के आधार पर उस अध्यापक के नाम की सिफारिश जिला स्तरीय कमेटी को भेजी जाएगी। जिला स्तरीय कमेटी में जिला शिक्षा अधिकारी कमेटी के चेयरमैन, उपजिला शिक्षा अधिकारी, डाइट प्रिंसिपल, जिला में सबसे वरिष्ठ खंड शिक्षा अधिकारी इस कमेटी के सदस्य होंगे। तत्पश्चात जिला स्तरीय कमेटी अपनी सिफारिश राज्य स्तरीय कमेटी को भेजेगी। राज्य स्तरीय कमेटी में माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक चेयरमैन, अतिरिक्त निदेशक, एससीईआरटी के निदेशक व उपनिदेशक कमेटी के सदस्य होंगे।

प्रवक्ता के अनुसार मौलिक शिक्षा विभाग में कार्य करने वाले अध्यापकों के वर्ग में स्टेट टीचर अवार्ड के लिए पहले संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा अध्यापक के सेवा-रिकार्ड के आधार पर उस अध्यापक के नाम की सिफारिश  जिला स्तरीय कमेटी को भेजी जाएगी। जिला स्तरीय कमेटी में जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी कमेटी के चेयरमैन,उपजिला शिक्षा अधिकारी, डाइट प्रिंसिपल, जिला में सबसे वरिष्ठ खंड शिक्षा अधिकारी इस कमेटी के सदस्य होंगे। तत्पश्चात जिला स्तरीय कमेटी अपनी सिफारिश राज्य स्तरीय कमेटी को भेजेगी। राज्य स्तरीय कमेटी में मौलिक शिक्षा विभाग के निदेशक चेयरमैन, अतिरिक्त निदेशक, एससीईआरटी के निदेशक व उपनिदेशक कमेटी के सदस्य होंगे।

उन्होंने बताया कि राज्य स्तरीय कमेटी स्टेट अवार्ड के लिए आने वाले सभी नामांकनों की जांच करेगी और जरूरत हुई तो अन्य जानकारियां भी मांगी जा सकती हैं। इसके अलावा इनसे औपचारिक कक्षा में अध्यापन करवाकर अध्यापन-मूल्यांकन किया जाएगा। यह कमेटी इन नामांकित अध्यापकों द्वारा पढ़ाए गए बच्चों का एससीईआरटी गुडग़ांव द्वारा लर्निंग लेवल भी जांच सकती है।

उन्होंने बताया कि अवार्ड के लिए नाम तय करते वक्त उस अध्यापक का शैक्षणिक रिकार्ड, व्यक्तिगत उपलब्धियां, समुदाय के सामाजिक जीवन में उसकी भागीदारी, उनके द्वारा पढ़ाए गए बच्चों की शैक्षणिक व अन्य गतिविधियों में उपलब्धियों का भी आंकलन किया जाएगा। राज्य स्तरीय कमेटी अपने स्तर पर पूर्ण रूप से संतुष्ट होने के बाद स्टेट अवार्ड के लिए अध्यापकों का नाम राज्य सरकार को भेजेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के अनुसार सरकारी स्कूलों में कार्यरत अध्यापकों के स्टेट अवार्ड के लिए नाम जिला स्तरीय कमेटी के माध्यम से निदेशालय में 20 जुलाई, 2018 तक पहुंच जाने चाहिएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *