बिजली विभाग ने ट्यूबवेल कनेक्शन के नोटिस करें जारी, शर्तो से गुस्साए किसान, जताया रोष

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Yamuna Nagar,  5 April, 2019

हरियाणा में लम्बे समय से ट्यूबवेल कनेक्शन जारी होने इंतजार में बैठे किसानों को बिजली विभाग ने सौगात देते हुए दिसंबर 2018 तक के सभी आवेदकों को कनेक्शन लेने के लिए नोटिस जारी किये हैं। जिसके बाद अब निगम द्वारा क्षेत्र के 846 किसानों को टयूबवैल कनैक्शन लेने के लिए नोटिस भेजे गए हैं।

लेकिन नोटिस के साथ- साथ विभाग ने कुछ शर्ते भी लागू करी है। जिससे किसनों मे रोष का माहौल बना हुआ है। शर्तो को पूरा करने के बाद ही बिजली निगम द्वारा किसानों को कनैक्शन दिए जांएगे।

शर्त के अनुसार बिजली निगम ने टयूबवैल की मोटरे बनाने वाली 6 कंपनियों को अधिकृत किया है। इन कंपनियों की मोटर टयूबवैल में इस्तेमाल करने पर ही किसानों को टयूबवैल का नया कनैक्शन दिया जाएगा। अगर किसान किसी दूसरी कंपनी की मोटर इस्तेमाल करता है तो उसे कनैक्शन नहीं दिया जाएगा।

वहीं किसानों का कहना है कि बिजली निगम की यह शर्त सरासर किसानों के साथ अन्याय है। अधिकतर किसान बाजार से पुरानी मोटर लेकर नया कनैक्शन शुरू करते है।

इसके अलावा बिजली निगम ने टयूबवैल का नया कनैक्शन लेने के लिए संबंधित किसान के खेत में पाईपलाईन बिछा होना जरूरी है। पाईप लाईन बिछी होने की रिपोर्ट किसान को कृषि विभाग से करवानी होगी।

किसानों का कहना है कि सरकार की यह शर्त भी सरासर गलत है। उन्होंने बताया कि उनके खेतों में पाईपलाईने पहले से बिछी हुई है। अब कृषि विभाग के कर्मचारी उनसे उनके खेतों में बिछी पाईपलाईनों के बिल मांग रहे है।

किसानों का कहना है कि उनके खेतों में लंबे समय पहले पाईप लाईने बिछी थी। अब वह इतने लंबे समय बाद पाईप लाईनों का बिल कहां से दिखाए।

इसके अलावा बहुत से किसानों के पास मात्र एक से दो एकड ही भुमि है। जिस पर पाईप लाईन बिछाना सभव नही है। ऐसे में वह पाईप लाईन कैसे बिछा सक ते है। अब किसानों की मांग है कि निगम द्वारा लगाई गई शर्तो को वापिस लिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *