अब रेलवे स्टेशन पर मिट्टी के बर्तनों में मिलेगी चाय और लस्सी, देश के 400 रेलवे स्टेशनों पर शुरू होगी सुविधा

हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

3 oct, 2019

अब रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को चाय व लस्सी प्लास्टिक के कप में नहीं बल्कि मिट्टी के बर्तन में मिलेगी । यही नहीं प्लास्टिक पर पाबंदी लगाते हुए रेलवे ने चाय, लस्सी और खाने- पीने का अन्य सामान भी मिट्टी से बने कुल्हड़, गिलास में दिए जाएंगे। इसलिए रेल यात्रियों को जल्द ही सफर के दौरान एक अलग ही अनुभव मिलेगा। दरअसल, अब आपको 400 रेलवे स्टेशनों पर चाय, लस्सी और खाने- पीने का सामान मिट्टी से बने कुल्हड़, गिलास और दूसरे बर्तनों में मिलेगा। खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) ने गुरुवार को कहा कि रेल मंत्रालय ने 400 रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को खाने-पीने का सामान मिट्टी से बने बर्तनों में उपलब्ध कराने का निर्णय किया है। इस कदम से पर्यावरण को बढ़ावे मिलने के साथ प्लास्टिक के उपयोग पर अंकुश लगेगा, इसके अलावा कुम्हारों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी।

केवीआईसी के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि रेलवे की इस पहल से उत्साहित आयोग कुम्हारों के बीच 30,000 इलेक्ट्रिक चाक का वितरण करने का फैसला किया है। साथ ही मिट्टी के बने सामानों को नष्ट करने के लिए मशीन (ग्राइंडिंग मशीन) भी उपलब्ध कराएगा। विनय कुमार सक्सेना ने कहा, ‘हम इस साल 30,000 इलेक्ट्रिक चाक दे रहे हैं। इससे रोजाना 2 करोड़ कुल्हड़ और मिट्टी के सामान बनाये जा सकते हैं। प्रक्रिया अगले 15 दिनों में शुरू हो जानी चाहिए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *