अब जेलों में योग करेंगे कैदी, मिलेगी योगाचार्य की उपाधि

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 14 May, 2018

हरियाणा की जेलों में अब कैदी भी योग सिखेंगे और सिखाएंगे। ऐसा ही फ़ॉर्मूूला सरकार तैयार कर रही है. इतना ही नहीं जो कैदी योगा सिखाएगा, उसे योगाचार्य की उपाधि से सम्मानित भी किया जाएगा।

सरकार का यह प्लान कैदियों के आचरण और व्यवहार में बदलाव के लिए है, जेलों में कैदियों के लिए योग की विशेष कक्षाएं शुरु होंगी।

प्रदेश की 19 जेलों में योगा को लेकर तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई है और कैदियों को इससे फायदा होने की उम्मीद है।

एक जानकारी के मुताबिक प्रदेश की 19 जिला जेलों में करीब 19 हजार कैदी या विचाराधीन बंदी है, जिनको योग सिखाया जाएगा।

सरकार का मकसद है कि अपराध पर लगाम लगाने के लिए योगा काफी सहायक सिद्ध हो सकता है, एक मान्यता है कि कैदी जब तक जेल में हैं तब तक ठीक है और बाहर आते ही वो दोबारा आपराधिक प्रवृतियों में शामिल हो जाता है।

ऐसे में सरकार चाहती है कि ऐसे कैदियों की मानसिकता को बदला जाएं और उनके अंदर सकारात्मक सोच योगा के जरिये लाई जा सकती है।

जेल विभाग का मानना है कि योग से शारीरिक रुप से भी कैदियों में स्फूर्ति आएगी और उनका मन काम करने को भी करेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *