दक्षिणी हरियाणा के अंतिम टेल तक पहुंचाया पानी, अब हर घर पहुंचेगा नल से पानीः मनोहर लाल

चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

9 oct, 2019

रेवाड़ी/कोसलीः मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुधवार को दक्षिणी हरियाणा के लोगों का दिल जीत लिया। मुख्यमंत्री ने दक्षिणी हरियाणा की नब्ज पानी पर बोलना शुरू किया तो उपस्थित जनता ने तालियों की गड़गड़ाहट से मनोहर लाल का स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा को पंजाब से अलग करने का अगर श्रेय जाता है तो वह दक्षिणी हरियाणा को जाता है। इसी क्षेत्र से हरियाणा की मांग थी और 1 नवंबर 1966 में हरियाणा अलग से मानचित्र पर आया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल बुधवार को दक्षिणी हरियाणा के कोसली विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह यादव के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

48 साल बाद अंतिम टेल तक पहुंचा पानी
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के निर्माण करने वाले क्षेत्र की पिछली सरकारों ने नहीं सुनी और यह इलाका पिछड़ता चला गया। मनोहर लाल ने कहा कि दक्षिणी हरियाणा में सबसे बड़ी समस्या पानी की है। हमारी सरकार ने इसे समझा और 48 साल बाद हमने आखिरी टेल तक पानी पहुंचाया। उन्होंने कहा अगले पांच साल में इस क्षेत्र की पानी की समस्या को जड़ से समाप्त कर दिया जाएगा, क्योंकि इसकी हमने प्लानिंग कर ली है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब रसोई में नल से शुद्ध जल पहुंचेगा। इस पर काम चल रहा है। उन्होंने खास बात बोलते हुए कहा कि मसानी डैम काफी वर्षों से सूखा पड़ा था। हमारी सरकार ने यमुना का पानी डैम में डाला और नतीजा आपके सामने हैं कि यहां का पानी का लेवल 25 से 30 फुट ऊपर आया है।

48 साल पर पांच साल भारी
मुख्यमंत्री ने कहा कि अब चुनाव का डंका बज चुका है। आप लोगों ने 48 साल तक हरियाणा में कांग्रेस व इनेलो की सरकारों का राज देखा है। भाजपा ने 2014 में पहली बार सरकारी बनायी है। इस सरकार का भी पांच साल देखा है। अब अंतर आपके सामने है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किसी भी क्षेत्र के साथ बगैर किसी भेदभाव के समान रूप से कार्य किया है। हमारे लिए जनता ही भगवान है।

हर घर में पहुंचाया रसोई गैस
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा के हर घर में रसोई गैस पहुंचा है। सभी के घर में रसोई गैस सिलेंडर है। अगर किसी के घर में नहीं है। तो वह अपना कार्ड लेकर सरकारी अधिकारी के कार्यालय जाए। उसे 48 घंटे में मिल जायेगा। अगर नहीं मिलता है। तो बताना अभी आचार संहिता के कारण तो कुछ नहीं कह सकता हूं, लेकिन अगली सरकार बनते ही ऐसे लोगों को ठीक कर दूंगा।

पूर्व सैनिकों को दिया तोहफा
मुख्यमंत्री ने कहा कि अहीरवाल क्षेत्र सैनिकों की खान है। पूर्व सैनिक 30 साल से वन रैंक वन पेंशन की डिमांग कर रहे थे। लेकिन पिछली सरकारों ने कभी ध्यान नहीं दिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में इसी रेवाड़ी धरती पर घोषणा की थी कि सैनिकों का सम्मान किया जायेगा। जब केन्द्र में भाजपा की सरकार बनी, तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक कलम से पूर्व सैनिकों की डिमांड को पूरा कर दिया। आज अहिरवाल क्षेत्र में रहने वाले सैनिक परिवारों को इससे प्रत्यक्ष लाभ प्राप्त कर रहे हैं। पूरे देश में लाखों सैनिक परिवारों को लाभ पहुंचा है।

खर्ची व पर्ची पर लगाया लगाम
मुख्यमंत्री ने कहा पिछली सरकारों ने राजनीति को लूट का साधन बना लिया था। लेकिन हमारी सरकार राजनीति को जनता की सेवा का साधन मानकर चलती है। मुख्यमंत्री ने जैसे ही यह कहा कि दक्षिणी हरियाणा के युवाओं को इस बार सरकारी नौकरी ज्यादा मिली है, तो जनता का जोश देखने के लायक था। मनोहर लाल ने कहा कि पिछली सरकारों में नौकरियों के लिए लोग दलालों को ढूंढत थे। नौकरी भी उसी की लगती थी जिनके पास खर्ची के अलावा पर्ची भी होती थी। लेकिन हमारी सरकार ने पारदर्शिता से काम किया और युवाओं को टैलेंट के हिसाब से नौकरी दी। पिछली सरकारों में चल रही खर्ची व पर्ची की परम्परा को समाप्त किया। अब किसी भी युवा को उसके अधिकार से वंचित नहीं किया जा सकता है। युवाओं के सपने अब साकारा हो रहे हैं।

एम्स बनाने का वादा निभायेंगे
मुख्यमंत्री ने अपनी अगली पांच साल की योजना बताते हुए कहाकि हमारी सरकार दोबारा बनने पर हम हर रसोई तक नल से जल पहुंचायेंगे। उन्होंने मनेठी में बनने वाले एम्स के बारे में कहा कि एम्स बनाना मेरा वायदा है। सीएम ने कहा कि जो वायदा मैंने किया तो समझो पूरा करके दम लूंगा। उन्होंने कहा कि वहां पर कुछ अड़चन आ गई है उसे दूर कर लिया जायेगा। मैंने वहां के लोगों को कह दिया है कि आप लोग जमीन दे दो, हम एम्स बना देंगे और जमीन की पूरी कीमत भी देंगे।

इन दिग्गजों की रही उपस्थिति
केन्द्रीय राज्यमंत्री राव इन्द्रजीत सिंह, पूर्व मंत्री विक्रम ठेकेदार, वरिष्ठ भाजपा नेता वीरकुमार यादव, पीसी राव, जिला पार्षद शारदा यादव आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *