27.2 C
Haryana
Sunday, September 27, 2020

अब आप हिंदी में पढ़ सकेंगे भगत सिंह के खुद के लिखे विचार, जेल डायरी का अन- एडिटिड वर्जन हुआ तैयार

Must read

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...

Yuva Haryana

23-04-2108

शहीद भगत सिंह की जेल डायरी अंग्रजी और उर्दू के बाद अब हिंदी में भी पढ़ने को मिलेगी। लेकिन खास बात यह है कि यह डायरी अन- एडिटिड होगी। जी हां,  जेल डायरी का अनएडिटिड हिंदी वर्जन तैयार हो चुका है। जो जल्द ही बिक्री के लिए लोगों तक पहुंचेगी।

भगत सिंह के जेल में बिताए हर एक लम्हा, क्रांति की आवाज और उनकी क्रांतिकारी सोच का पैगाम इतिहास बनकर उनकी डायरी में सुरक्षित है। पाकिस्तान की लाहौर जेल में गुजारा हर लम्हा इस 404 पेज की डायरी में दर्ज है।

इसे खुद भगत सिंह के वंशज यादवेंद्र संधू ने तैयार करवाया है। जी हां, भगत सिंह की लिखी गई असली डायरी उनके भतीजे बाबर सिंह के पास थी। उनके मौत के बाद अब यह डायरी बाबर सिंह के बेटे यादवेंद्र संधू के पास है। यादवेंद्र फरीदाबाद में रहते हैं।

उन्होंने बताया कि अब तक भगत सिंह के बारे में जो भी किताबें हैं, उसमें राइटर्स के विचारों की भी छाया दिखती है। जबकि इस डायरी के जरिए, उनके खुद के लिखे विचार पढ़ने को मिलेंगे।

यह डायरी अंग्रेजी और उर्दू में लिखी गई है। भगत सिंह ने लाहौर सेंट्रल जेल एडमिनिस्ट्रेशन से डायरी मांगी थी। इसमें वह कुछ लिखना चाहते थे।
12 सितंबर 1929 को जेल एडमिनिस्ट्रेशन ने डायरी दी थी। अब जो हिंदी जेल डायरी आ रही है, उसमें हर एक शब्द ओरिजनल जेल डायरी के हिसाब से ही होगा। यह डायरी का हिंदी में अनएडिटिड रूप होगा।

बता दें कि  भगत सिंह की यह डायरी अंग्रेजी में पहले ही छप चुकी है। लेकिन हिंदी में नहीं थी। इस किताब में एक तरफ उनकी डायरी के पन्नों की स्कैन कॉपी लगी है> दूसरी तरफ सामने के पेज पर हिंदी ट्रांसलेशन जोड़ा जाएगा।

यह अब पूरी तरह तैयार हो चुकी है। इसकी लांचिंग की तारीख निर्धारित की जा रही है। इसे मई के पहले या दूसरे सप्ताह में लांच कर दिया जाएगा।

 

More articles

Latest article

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...

Corona virus है या फ्लू सर्दियों,  ये 2 बड़े लक्षण बताएंगे फर्क

Yuva Haryana News Chandigarh , 26 September, 2020 सर्दी और बरसात में हमें अक्सर जुखाम हो जाता है। कई बार तो हम इस बीमारी से 4-5...