दिल्ली में 4 नवंबर से ऑड-ईवन नियम लागू, उल्लंघन करने पर भरना पड़ेगा जुर्माना

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

1 Nov, 2019

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर से ऑड- ईवन का नियम लागू कर दिया है। उन्होंने कहा कि अब तक 25 फीसदी तक प्रदूषण कम रहा है प्रदूषण तब कंट्रोल होता है जब हम सब मिलकर इसके लिए काम करते है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार ने भी काम किया है उसने पेरिफेरेल एक्सप्रेसवे बनाए है वहीं नगर निगमों ने भी अपना काम किया है और साथ ही सबसे ज्यादा काम दिल्ली की जनता के द्वारा किया गया है। जिन्होंने सरकार के हर कदम पर साथ दिया है। केजरीवाल ने कही कि अब फिर से दिल्ली में धुआं बढ़ने लगा है वहीं दिल्ली के पास पराली जलाई जा रही है जिसका धुआं दिल्ली में आ रहा है इसलिए इस धुएं को रोकने के लिए हमें मिलकर कदम उठाना होगा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि 4 से 15 नवंबर के बीच ऑड ईवन लागू किया जा रहा है। इस बार भी महिलाओं को सुरक्षा की दृष्टि से छूट रहेगी. साथ में उन्होंने यह भी जोड़ा कि महिला चला रही हो और उसके साथ 12 साल तक बच्चा है तो ही छूट रहेगी.  इस बार सीएनजी प्राइवेट गाड़ियों को छूट नहीं मिलेगी. उन्होंने कहा कि हमारा पब्लिक ट्रांसपोर्ट उतना मज़बूत नहीं है. दो पहिया गाड़ियों की छूट को लेकर अभी निर्णय नहीं लिया गया है इस पर चर्चा जारी है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि 50 लाख से ज़्यादा दो पहिया हैं और 5 लाख सीएनजी कारें. वहीं हमने DTC को 2 हज़ार बसें और लगाने के लिए कहा है।

वहीं दिल्ली में चार नवंबर से हो रहे ऑड-ईवन नियम का उल्लंघन करने पर संशोधित मोटर वाहन कानून के तहत 20,000 रुपए का जुर्माना हो सकता है. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. ऑड-ईवन नियम के तहत वाहनों की पंजीकरण संख्या के अंतिम अंक के आधार पर एक दिन केवल सम अंक (ईवन) की गाड़ियां और अगले दिन केवल विषम (ऑड) अंक के वाहन वैकल्पिक आधार पर सड़कों पर चलते हैं. इससे पहले जनवरी और अप्रैल 2016 में दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन योजना लागू की थी. उस समय इसका उल्लंघन करने पर 2000 रुपए के जुर्माने का प्रावधान था। अधिकारी ने बताया कि जुर्माने को लेकर अंतिम फैसला अभी नहीं लिया गया है क्योंकि संशोधित मोटर वाहन कानून के तहत उल्लंघन के कई मामलों को एक साथ जोड़ने की अधिसूचना को दिल्ली सरकार ने अभी अधिसूचित नहीं किया है.

उन्होंने कहा- सरकार के पास जुर्माना कम करने का अधिकार है. वह ऐसा कर भी सकती है और नहीं भी कर सकती है.’ एमवी कानून की धारा 115 के तहत ऑड-ईवन नियम के उल्लंघन पर जुर्माने को संशोधन के बाद 2000 रुपए से बढ़ाकर 20000 कर दिया गया है. ये संशोधन इस साल एक सितंबर से लागू किए गए थे. एमवी कानून की धारा 115 राज्य सरकार को वाहनों का प्रयोग बाधित करने का अधिकार देती है और दिल्ली सरकार ने इसी के आधार पर ऑड-ईवन योजना लागू की है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल में घोषणा की थी कि सर्दियों में वायु प्रदूषण को नियंत्रित रखने के लिए चार से 15 नवंबर तक सात बिंदुओं वाली कार्य योजना के तहत दिल्ली में ऑड-ईवन योजना लागू की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *