मोरनी गैंगरेप मामले में कॉल रिकॉर्डिंग से चौंकाने वाले खुलासे, 40 नहीं 70 लोगों से सन्नी ने की थी बात

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा

Umang Sheoran, Yuva Haryana

Panchkula, 23 July, 2018

पंचकूला के मोरनी के एक होटल में महिला को बंधक बनाकर रेप करने के मामलें में पंचकूला पुलिस ने 6 और आरोपियों को गिरफ्तार है।

वहीं इस केस की इन्वेस्टिगेशन होने के बाद एक के बाद एक बडे बडे खुलासे हो रहे हैं।

जिसमें सामने आया है, कि सन्नी ने उन चार दिनों के दौरान 40 नहीं बल्कि 70 लोगों से संपर्क किया था।

जिसमें उन्हें फोटो भेजकर यहां होटल में आने के लिए कहा गया था।

वहीं सन्नी एक रैकेट के तर्ज पर काम करता था।

जो यहां पहले भी कई लडकियों को ला चुका है।

जिन्हें ब्यूटीपार्लर से तैयार भी करवाया जाता था।

बडे खुलासे – सन्नी की कॉल डिटेल से बडा खुलासा हुआ है, जिसमें सामने आया है, उन चार दिनों के दौरान सन्नी ने खुद लोगों को कॉल करके होटल में बुलाया था।

इस दौरान उसने 70 लोगों को तीन नंबरों से कॉल की है।

जिसमें पंचकूला के अलावा अंबाला, लाडवा के लोग भी शामिल हैं।

ऐसे में सवाल खडा हो गया है, कि जब 70 लोगों को पीडित की फोटो भेजी गई, कॉल कर बुलाया गया तो उसके साथ कितने लोगों ने गैंगरेप किया।

जिसमें 30 से ज्यादा लोगों के कॉल आए हैं, जबकि बाकियों को किया गया है।

वहीं सबसे बडी चौकाने वाली बात सामने आई है, कि 15 से 18 जुलाई के दौरान महिला, उसके पति और सन्नी के मोबाईल ने कई राज से पर्दा उठाया है।

क्यों कि इन लोगों की इस दौरान दिन में कई कई बार बात की गई हैं।

जिसमें 25 सैकेड़ से लेकर साढे 4 मिनट तक बात हुृई है।

जिसके बारें में इन्वेस्टिगेशन की जा रही है।

पुलिस की इन्वेस्टिगेशन में सामने आया है, कि इस दौरान यहां एक के अलावा ओर भी लडकी मौजूद थी।

जिसके साथ भी ऐसा करवाया गया।

सन्नी ने ये सब बिजनेस बनाया हुआ था, जिसमें वो यहां लडकियों को लाता था और उसके बाद ये सब करवाया जाता था।

एक आरोपी ने पूछताछ में एक ओर लडकी के यहां होने के बारें में खुलासा किया है।

ऐसे में सवाल खडा हो गया है, कि वो दूसरी लडकी कौन थी, जिसे यहां सन्नी लाया हुआ था।

वहीं इस मामलें में एक 50 रूपए का नोट भी सामने आया, जिस पर एक मोबाईल नंबर भी लिखा था।

जिसके बाद पुलिस को ये नोट दिया गया, लेकिन पुलिस की इन्वेस्टिगेशन में सामने आया है, ये नोट किसी भी पुलिसकर्मी का नहीं हैं।

वहीं इस केस में पुलिसकर्मी शामिल ही नहीं था।

जिसके बारें में जीरकपुर एरिया से लेकर डेराबस्सी को चैक किया जा चुका है।

जो भी लोग सीसीटीवी कैमरों में दिखे हैं, उनमें से ज्यादातर की पहचान हो चुकी है।

इसके अलावा बाकियों की पहचान,मोबाईल नंबराें और ड्राईवर के जरीए हो चुकी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *