पुलिस के व्यवहार में होगा बदलाव, शुरू किया ‘ऑपरेशन श्रीमान’

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

Chandigarh, 03 Jan, 2018

हरियाणा पुलिस द्वारा जनता के सम्मान को बनाए रखने के लिए एक अनूठी पहल करते हुए प्रदेश में ‘ऑपरेशन श्रीमान’ की शुरूआत करने का निर्णय लिया गया है, जिसके तहत पुलिसकर्मी विभिन्न डयूटी के दौरान नागरिकों के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार करते हुए शिष्टाचार का पालन करेंगे।
 
पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बी.एस. संधू ने सभी रेंज एडीजीपी / आईजी, पुलिस आयुक्तों और जिला पुलिस अधीक्षकों को कल देर सायं पुलिस मुख्यालय में आयोजित की गई एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संबोधित करते हुए इस संबंध में निर्देश जारी किए। 
  उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हाल ही में एक समारोह के दौरान पुलिस अधिकारियों को जनता विशेष तौर से गरीबों के साथ पुलिस के व्यवहार को और बेहतर बनाने के लिए प्रेरित किया था।
पुलिस को किसी भी सरकार का आईना बताते हुए, डीजीपी ने कहा कि पुलिसकर्मियों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन सम्मानपूर्वक करना चाहिए। हालांकि, पुलिस के अधिकांश कर्मी जनता के प्रति सभ्य और विनम्र हैं, फिर भी नाकाबंदी, गश्त ड्यूटी, चेकिंग ड्यूटी, पीसीआर ड्यूटी, पुलिस स्टेशन, पुलिस पोस्ट और अन्य स्थानों पर रहते हुए पुलिसकर्मी जनता के साथ विनम्र और सम्मानजनक व्यवहार करें व असभ्य व्यवहार करने से बचें। ऑपरेशन श्रीमान 31 जनवरी, 2019 तक जारी रहेगा।
  डीजीपी संधू ने पुलिस प्रशिक्षण संस्थानों के साथ-साथ रेंज और जिला स्तर पर भी पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके अलावा, इस कार्य के लिए सॉफ्ट स्किल विशेषज्ञों और अन्य विशेषज्ञों की सेवाएं भी ली जाएंगी। उन्होंने कहा कि जनता के साथ सभ्य व्यवहार बारे प्रशिक्षण भी पुलिस के चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रमों का हिस्सा होगा।
इस संबंध में सर्वश्रेष्ठ पुलिसकर्मियों को राज्य, रेंज और जिला स्तर पर पुरस्कृत भी किया जाएगा। इसके अलावा, पुलिसकर्मी आमजन की शिकायतों को ध्यानपूर्वक सुनकर उनका समाधान करने का भी प्रयास करें ताकि लोगों में पुलिस के विश्वास को और मजबूत किया जा सके। 
   डीजीपी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वर्तमान धूंध की परिस्थितियों के दौरान सडक़ दुर्घटनाओं मे कमी लाने के लिए पुलिस अधिकारी एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी जैसे विभागों के साथ बेहतर समन्वय बनाएं। ट्रैफिक इंचार्ज भी अपने-अपने क्षेत्रों में वाहन चालकों द्वारा यातायात और सडक़ सुरक्षा नियमों की अनुपालना सुनिश्चित करें ताकि यात्रियों के बहुमूल्य जीवन को बचाया जा सके। इसके अलावा, अधिकारियों को केजीपी और केएमपी एक्सप्रेस-वे पर लेन ड्राइविंग सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।
कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करते हुए, श्री संधू ने कहा कि आम संसदीय चुनाव आने वाले हैं तथा जींद विधानसभा के उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है। इसलिए पुलिस द्वारा राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सुनिश्चित करने के लिए अभी से ही आवश्यक संभावित प्रबंध किए जाने चाहिए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *