Home चर्चा में इंपाउंड कर थाने ले जाने थे ट्रक, ड्राइवर टायरों की हवा निकाल कर गायब हुए, प्रशासन लाचार

इंपाउंड कर थाने ले जाने थे ट्रक, ड्राइवर टायरों की हवा निकाल कर गायब हुए, प्रशासन लाचार

0
0Shares

Rajiv Sultania, Yuva Haryana
Kanina, 21/03/18

ओवरलोड वाहनों पर शिकंजा कसने के लिए महेंद्रगढ़ जिला प्रशासन की ओर से कनीना में अटेली मोड़ पर लगाय गया नाका बुधवार को ओवरलोड वाहन चालकों की मनमानी के कारण फेल होता दिखाई दिया।
ट्रक चालकों की मनमानी की वजह से सुबह करीब आठ बजे लगा जाम दो बजे तक जारी रहा। छह बजे ड्यूटी पर आए स्टाफ द्वारा दोपहर 12 बजे तक 30 वाहनों की जांच की गई जबकि एक वाहन का चालान किया गया। आरटीए सहायक की ओर से दो वाहनों के 1.11 लाख के चालान किए। सडक़ पर खड़े वाहनों को बाड़े में लाने के लिए स्टेयरिंग लॉक हटाने के प्रयास किए तो कई वाहन चालक अपने वाहनों के टायरों की हवा निकाल कर फरार हो गए। जिसके चलते दुबारा जाम के हालात बन गए।
सुबह के समय वाहन जांच के कारण ओवरलोड वाहन चालक अपने वाहनों को सडक़ पर छोडक़र फरार हो जाने के चलते कनीना-महेंद्रगढ व कनीना-अटेली मार्ग पर सैंकडों औवरलोड वाहन खड़े हो गए जिसके चलते सडक़ जाम की समस्या उत्पन्न हो गई। सडक़ पर जाम लगने के कारण स्कूली बसें व यात्री बसों सहित छोटे वाहन भी जाम में फंस गए। सुबह करीब आठ बजे लगे इस जाम के कारण आमजन को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।
कुछ वाहन चालकों ने गुंडागर्दी करते हुए नाके से जबरदस्ती वाहनों को स्पीड से निकाला। इस दौरान हादसा होते-होते बच गया। पुलिस कर्मचारी व नाके पर तैनात टीम सदस्य बाल-बाल बच गए। नाका टूटता देख इंचार्ज की ओर से उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया जिसकी सूचना मिलने पर पुलिस का अतिरिक्त स्टाफ मौके पर पंहुचा लेकिन चालकों की गुंडागर्दी के चलते पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर सका। एक ओवरलोड चालक ने पुलिस कर्मचारियों को कुछ नहीं समझते हुए उनके संकेत को नजरअंदाज करते हुए भगा लिया जिसके पीछे पुलिस कर्मचारी लगे भी, लेकिन उसका कुछ नहीं बिगाड़ पाए। वह भाग गया।
इस सारी घटना को आमजन ने भी अपनी आखों से देखा ओर उसके वीडियो भी बनाए। नाके के वीडियो जिला उपायुक्त डॉ. गरिमा मित्तल को भेजे गए जिन्होंने मोबाईल टीम को मौके पर भेजने की बात कही।
कुछ देर बाद बीडीपीओ निशा तंवर मौके पर पंहुची ओर नाके का जायजा लेकर वाहनों की जांच करने की बात कही। उन्होंने कुछ देर तक औवरलोड चालकों की कारगुजारी देखी ओर गाड़ी में बैठकर रवाना हो गई।
बसों के जाम में फंसने के कारण सवारियां नाके पर पंहुचकर बार-बार परेशानी की बात कहती रही। सुबह आठ बजे लगा जाम एक बजे तक जारी रहा। इस दौरान अटेली मोड़ से गुढा गांव तक तथा अटेली रोड़ रेलवे फाटक से आगे तक वाहनों के खड़े रहने के कारण जाम लगा रहा। सडक़ जाम के चलते वाहनों के चालक आपस में रणनीति बनाते रहे।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In चर्चा में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पानीपत में फूटा कोरोना बम, शनिवार को 7 पॉजिटिव आए सामने, चार बच्चे शामिल

Yuva Haryana, Panipat हरियाणा के …