किसानों को मोदी सरकार का तोहफा, 200 रुपये प्रति क्विटंल बढ़ा धान का समर्थन मूल्य

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 04 July, 2018

इस बार किसानों को लुभाने के लिए सरकार ने धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में काफी बढ़ोत्तरी की है। इस बार धान के समर्थन मूल्य में 200 रुपए प्रति क्विंटल की दर से बढ़ोत्तरी की गई है। इसको केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।

पिछले बार सरकार ने 7 जून को ही फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों की घोषणा कर दी थी लेकिन इस बार जुलाई का महीना शुरु हो चुका था लेकिन अभी तक एमएसपी घोषित नहीं किये गए थे, जिसके बाद अब सरकार ने यह फैसला लिया है।

खरीफ सीजन की फसलों के समर्थन मूल्य को लेकर कैबिनेट की बैठक में फैसला लिया गया है। बताया जा रहा है कि लगातार फसलों की गिरते रेटों से परेशान है और यह रिपोर्ट सरकार के पास है, ऐसे में सरकार की तरफ से किसानों को राहत दी गई है।

इससे पहले किसानों की फसलों की लागत पर डेढ़ गुना देने का सरकार का वादा किया हुआ है, खरीफ की फसलों की बिजाई मानसून की बारिश के साथ होती है और इनकी कटाई अक्टूबर माह से शुरु होती है।

न्यूनतम समर्थन मूल्य देखिये 

फसल का नाम एमएसपी 2017-18 एमएसपी 2018-19
धान 1550 1,750
कपास 4,020 5,150
ज्वार 1700 2450
बाजरा 1425 1950
मक्का 1425 1700
तुअर 5450 5,675
मूंग 5575 6,975
उड़द 5400 5,600
मूंगफली 4450 4890
सोयाबीन 3050 3,399
सूरजमुखी 4100 5388
तिल 5300 6249
रामतिल 4050 5877
रागी 1900 2897

 

केंद्र सरकार की तरफ से पिछले बजट में सरकार ने एमएसपी उत्पादन लागत का कम से कम डेढ गुना तय किया गया है, ऐसे में इस कैबिनेट की बैठक में न्यूनतम समर्थन मूल्य में सरकार किसानों को राहत दी है।

 

 

देश में करीब 25 करोड़ किसान खेती से जुड़े हुए हैं। मौजूदा समय में 1550 रुपये धान का समर्थन मूल्य है, लेकिन अब इस फैसले के बाद धान का समर्थन मूल्य 1750 रुपये हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *