520 बीएएमएस भुगत रहे रोहतक पीजीआइ की लेटलतीफी का खामियाजा

बड़ी ख़बरें हरियाणा

रोहतक के पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय की लेटलतीफी का खामियाजा हर साल प्रदेश के 520 भावी चिकित्सकों को भुगतना पड़ रहा है। इस साल भी दिसंबर में शुरू होने वाली बीएएमएस अंतिम वर्ष की परीक्षाएं मार्च आधा बीत जाने के बाद भी शुरू नहीं हो पाई है।

जिसकी वजह से भावी चिकित्सक न तो समय पर एमडी में दाखिला ले पाएंगे और न ही वह प्रैक्टिस के लिए फील्ड में समय पर उतर पाएंगे। श्रीकृष्ण आयुष विश्वविद्यालय के कुलपति ने विद्यार्थियों की मांग को रोहतक विज्ञान विश्वविद्यालय के अधिकारियों को भेजी।

हाल ही में पदभर संभालने वाले कुलपति डॉ. बलदेव ने मामला संज्ञान में लिया है। शिक्षक और विद्यार्थियों ने रोहतक विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक से बातचीत की और परीक्षाओं की डेटशीट जारी करने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *