शिक्षा बोर्ड ने नकल व अंकों में हेराफेरी रोकने के लिए बड़ा फैसला, पेपर मोबाइल एप्प के जरिए होंगें चैक

Breaking बड़ी ख़बरें हरियाणा

Yuva Haryana

Bhiwani

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने नकल रोकने और पेपर चैकिंग के दौरान प्रश्न के तय अंको से ज्यादा अंक देने पर रोक लगाने के लिए कई नए और बङे फैसले लिए हैं। बोर्ड चेयरमैन ने बताया कि इन नए फैसलों से जहां अंकों में हेराफेरी पर रोक लगेगी वहीं नकल पर भी नकेल लगेगी।

 

बोर्ड चेयरमैन डा. जगबीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बोर्ड ने तय किया है कि अब पेपरों की चैकिंग पंजाब शिक्षा बोर्ड की तरज पर मोबाइल एप के माध्यम से होगी। उन्होंने बताया कि इस एप में हर कक्षा के हर प्रश्न के तय नंबर दर्ज होंगे।

ऐसे में पेपर चेकिंग करने वाला शिक्षक चाहकर भी किसी बच्चे को किसी प्रश्न के तय नंबरों से ज्यादा नंबर नहीं दे पाएगा। बोर्ड चेयरमैन ने बताया कि सितंबर की परीक्षा में एप के माध्यम से पेपर चैकिंग की जाएगी और इसमें सफलता मिलने के बाद इसे वार्षिक परीक्षा के पेपरों की चेकिंग में लागू किया जाएगा।

 

साथ ही बोर्ड चेयरमैन डा. जगबीर सिंह ने बताया कि बोर्ड ने अब पूनर मुल्यांकन से पहले बच्चों को अपने हर प्रश्न के नंबर पता करने का भी विकल्प दिया जाएगा। ताकि बच्चा अपनी उतर पुस्तिका की रि-चेकिंग से पहले हर प्रश्न के नंबर देख सके।

 

उन्होंने बताया कि हर प्रश्न के उतर देखने के बाद ही बच्चा रि-चेकिंग का फैसला लेगा तो उसे सबसे पहले संतुष्टी मिलेगी और कम नंबर लगने पर ही वह रि-चेकिंग की फीस भरेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि इस बार अति-संवेदनशील व संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों को तभी स्थापित किया जाएगा जब वहां की पंचायतें लिखित में देंगी कि वो इन केन्द्रों पर सीसीटीवी लगवाएंगें। वरना ऐसे केन्द्रों पर इस बार परीक्षा नहीं करवाई जाएगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *