हथीन के सुप्रीडेंट इंजीनियर डा० शिवसिंह रावत ने एक साल में 25 गांवों में 55000 फल वाले पौधे लगवाए

स्थानीय

Yuva Haryana

Hathin

सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता डा० शिवसिंह रावत पर्यावरण को बचाने के लिए निरंतर काम करते रहते है। इस बार डा० रावत ने पिछले एक साल में हथीन क्षेत्र के 25 गांवों में 55000 फल वाले पौधे लगवाएं हैं। यह काम उन्होंने एसजीआई संस्था, हीरो मोटोकॉर्प गुरुग्राम ओर केबीसी वैलफेयर सोसायटी पलवल के सहयोग से किया है।

इससे पहले डा० रावत ने सितम्बर 2017 में हथीन के ही 11 गांवों में 21000 फलदार पौधे लगवाए थे और मार्च 2018 में 15 गांवों में 34000 फलदार पौधे लगवाए थे। जिन गांवों मे डॉ रावत ने पौधे लगवाए थे वे मीठाका, भूडपुर, खिल्लूका, जराली , मलाई, पचानका, अंधरौला, छांयसा, खेडली जीता, घर्रोट, बहीन, मिंडकोला, बिधावली,दुरेंची, मीरका, मालूका, कुमहरेडा,खिल्लूका, मीठाका, रुपडाका, पावसर, कुकरचांटी एवं गहलब।

डा० रावत का कहना है कि उनका लक्ष्य हथीन क्षेत्र के गांवों में लगभग 5 लाख फल वाले पौधे लगाने का है। क्यूंकि पेड़ न केवल हमें आक्सीजन देते हैं बल्कि पर्यावरण को शुद्ध भी करते हैं। साथ ही ज़मीन में पानी को सहज कर रखते है जो पानी के गिरते हुए लेवल को बचाने में सहायक होता है।

इसके साथ ही डा० रावत ने 4 गांवो में सौर ऊर्जा से संचालित लाईटें गलियों में लगवाई, वहीं गांव खिल्लुका में सरकारी स्कूल की चारदीवारी का काम करवाया, स्वास्थ्य शिविर एवं नशामुक्ति शिविरों का आयोजन किया गया है।

डॉ शिवसिंह रावत की छवि एक सामाजिक व्यक्तिव वाली है और ने सामाजिक कार्य करते रहते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *