27.2 C
Haryana
Sunday, September 27, 2020

कॉलेज खेल टूर्नामेंट्स में खिलाड़ियों का दैनिक भत्ता बढ़ाया जाए: दीपांशु बंसल

Must read

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...
  • कॉलेज खेल टूर्नामेंट्स में खिलाड़ियों का रिफ्रेशमेंट और दैनिक भत्ता बढ़ाया जाए

  • एनएसयूआई नेता ने मुख्यमंत्री व खेल राज्य मंत्री को पत्र लिखकर की मांग

  • खिलाड़ी छात्रों को केवल 15 रुपये रिफ्रेशमेंट व 100 रुपये मिलता है दैनिक भत्ता

  • छात्रों के भत्ते को 200 रुपए प्रतिदिन करने की भी मांग

Yuva Haryana
07 Dec, 2019

कांग्रेस छात्र संगठन एनएसयूआई में राष्ट्रीय संयोजक व राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे दीपांशु बंसल ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल व संदीप सिंह,खेल राज्य मंत्री हरियाणा सरकार को ज्ञापन भेजकर प्रदेश के राजकीय महाविद्यालयों में खेल टूर्नामेंट्स के दौरान खिलाड़ियों के जलपान व दैनिक भत्ते को बढ़ाकर 300 रुपए प्रति खिलाड़ी व अन्य कार्यक्रमो में भाग लेने वाले छात्रों के भत्ते को 200 रुपये प्रति छात्र करने की मांग की है।

दीपांशु बंसल ने कहा कि जहां एक तरफ हरियाणा सरकार खेलो को बढ़ावा देने की बात करती है तो वही हरियाणा का भविष्य,राजकीय महाविद्यालयो के खिलाड़ी छात्रों का उत्पीड़न कर रही है जोकि सरकार के दावों की पोल खोलता है।बंसल के अनुसार खिलाड़ियों को रिफ्रेशमेंट के लिए व खेल में जाकर अपना पूरा दिन गुजारने के लिए नामात्र जलपान व दैनिक भत्ता मिलता है जिसमे खिलाड़ी को डाइट को पूरा करना तो दूर एक बेसिक डाइट को पूरा करना भी संभव नही होता।

खेल मंत्री संदीप सिंह ने किया औचक निरीक्षण, अनुपस्थित प्रशिक्षकों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के दिए आदेश

दीपांशु ने कहा बड़े ही हैरानी की बात है कि राजकीय महाविद्यालयों में कोई खेल टूर्नामेंट होता है तो टीम के प्रत्येक खिलाड़ी को रिफ्रेशमेंट के लिए केवल मात्र 15 रुपए ही जलपान भत्ता मिलता है जबकि पूरे दिन के लिए दैनिक भत्ता केवल मात्र 100 रुपए ही मिलता है वही जअन्य कार्यक्रमो में हिस्सा लेने वाले छात्रों को केवल 60 रुपए दैनिक भत्ता मिलता है।दीपांशु ने कहा कि जब सरकार करोड़ो रूपये विज्ञापनों आदि पर खर्च करती है तो प्रदेश के युवाओ व छात्रों को खेलो में बढ़ावा देने के लिए भत्तों में बढ़ोतरी क्यो नही कर सकती।

टीम के साथ जाने वाले कोच को 500 रुपए भत्ता तो खिलाड़ी को केवल 100 रुपए….

दीपांशु बंसल ने बताया कि राजकीय महाविद्यालयों के खिलाड़ियों के साथ जाने वाली टीम के कोच को 500 रुपए दैनिक भत्ता मिलता है तो खिलाड़ी को केवल 100 रुपए ही मिलता है जबकि यह मान्य है कि खिलाड़ी की डाइट का ध्यान रखना भी अति आवश्यक है।

गुरुग्राम में महिला खिलाड़ी की गोली मारकर हत्या

खिलाड़ी छात्रों को 15 रुपए रिफ्रेशमेंट तो 100 रुपए ही दैनिक भत्ता,यह कैसा न्याय…..

राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे दीपांशु बंसल का कहना है कि खिलाड़ी न केवल अपने इलाके व कालेज बल्कि अपनी प्रतिभा से पूरे देश व प्रदेश का नाम ऊंचा करता है तो कालेज के खिलाड़ी को केवल 15 रुपए रिफ्रेशमेंट देना व वही केवल 100 रुपए दैनिक भत्ता देना किस हद तक न्याय है?खिलाड़ियों को अपनी डाइट पूरा करने के लिए कम से कम 300 रुपए प्रति खिलाड़ी भत्ते की जरूरत है क्योंकि अधितकर खिलाड़ी मध्यम व गरीब परिवारों से आते है और सरकार की जिम्मेवारी है कि खिलाड़ियों की प्रतिभा को आगे बढ़ाए जिससे विश्व मे भारत व हरियाणा का नाम रोशन हो।

पिछले 5 सालों में भी खिलाड़ी,सरकार की खेल नीति के खिलाफ उठाते रहे आवाज….

दीपांशु बंसल ने कहा कि यह भी ज्ञात रहे कि पिछले 5 सालों की खट्टर सरकार में प्रदेश के खिलाड़ी,सरकार की खेल नीति के विरुद्ध आवाज उठाते रहे है क्योंकि सरकार की खेल नीति कभी खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए बनी ही नही,हमेशा सरकार द्वारा खेल विरोधी नीतियों से खिलाड़ियों को दबाने की कोशिश की गई है जोकि सरकार के खेलो को बढ़ावा देने की पोल खोलता है।

More articles

Latest article

मोदी सरकार को झटका, पुराने साथी अकाली दल ने कृषि कानूनों के विरोध में गठबंधन तोड़ा

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September देश में नए कृषि कानूनों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन कानूनों को लेकर भारतीय...

प्रदेश में आज कोरोना के 1689 नए केस, तेजी से बढ़ी रिकवरी रेट, देखें Medical Bulletin 

Yuva Haryana News Chandigarh, 26 September, 2020 हरियाणा में अब कोरोना के रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है। हरियाणा के दस हजार से ज्यादा लोगों...

हरियाणा पुलिस का बड़ा कारनामा, गाड़ी में हैलमेट नहीं पहना तो काट दिया चालान 

Yuva Haryana News Panipat, 26 September, 2020 हरियाणा पुलिस पहले भी अपने कारनामों को लेकर अक्सर विवादों में रहती है। अब पानीपत से पुलिस का एक और...

राजनीतिक नियुक्तियों पर मुख्यमंत्री ने की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत, मंत्रिमंडल विस्तार अभी नहीं

Yuva Haryana News, Delhi, 26 September मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार शाम दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से विशेष मुलाकात की...

Corona virus है या फ्लू सर्दियों,  ये 2 बड़े लक्षण बताएंगे फर्क

Yuva Haryana News Chandigarh , 26 September, 2020 सर्दी और बरसात में हमें अक्सर जुखाम हो जाता है। कई बार तो हम इस बीमारी से 4-5...