बेंच पर बैठने वाले खिलाड़ियों को नहीं मिलेगा इनाम, खेल निदेशक ने जारी किए आदेश

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Gurugram, 28 Feb, 2019

खेल निदेशक निदेशक डॉ. भूपेंदर सिंह ने सभी जिला खेल अधिकारियों को आदेश जारी करते हुए कहा कि टीम इवेंट में बेंच पर बैठने वाले खिलाड़ियों को इनाम नहीं दिया जाएगा। केवल उन खिलाड़ियों को इनाम मिलेगा, जिन्होंने प्रतियोगिता के दौरान एक- दो मैच खेले होंगे। खेल निदेशक ने सभी जिला खेल अधिकारियों को पत्र भेजकर खिलाड़ियों के नाम भी मांगे है। अब राष्ट्रीय स्तर पर पदक हासिल करने वाली टीमों के उन खिलाड़ियों को पहचाना जा रहा है, जो एक भी मैच नहीं खेले हैं।

बता दें कि सभी टीम इवेंट में एक्स्ट्रा खिलाड़ी शामिल किए जाते हैं ताकि किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर वह उसकी जगह ले सके। जैसे हॉकी में 11 खिलाड़ी ग्राउंड में मैच खेलते हैं और 7 खिलाड़ी एक्स्ट्रा में होते हैं। अगर किसी खिलाड़ी को चोट लगती है तो उसकी जगह दूसरा खिलाड़ी खेलता है।

किन कारणों से सख्त किया नियम

ऐसे आरोप लग रहे थे कि जब भी कोई हॉकी, वालीबॉल,  हैंडबॉल, कबड्डी,  फुटबॉल टीम खिलाड़ियों का चयन करती है तो वह ग्राउंड में खेलने वाले बेस्ट खिलाड़ी का चयन कर लेते हैं और एक्स्ट्रा में सिफार्शी खिलाड़ियों को शामिल कर लेते हैं। लेकिन टीम के पदक जीतने पर उन सभी एक्स्ट्रा खिलाड़ियों को भी बराबर इनाम व सुविधाएं मिलती है, जो मैच में खेलने वाले खिलाड़ी को मिलती है। ज्यादातर एक्स्ट्रा में कमजोर खिलाड़ी शामिल होते हैं और अगर उन्हें मैच में खेलने को दिया जाए, तो वह टीम की हार का मुख्य कारण बन जाते हैं।

राष्ट्रीय स्तर पर प्रतियोगिता में शामिल होने वाली टीमों में एक्स्ट्रा में शामिल खिलाड़ी को ग्रेडेशन सर्टिफिकेट मिलता है और उसी के बलबूते वह नेताजी सुभाष नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पटियाला (एनआइएस)में डिग्री कोर्स में दाखिला हासिल कर लेता है। बाद में जब वह खेल विभाग में कोच लगता है, तो उसे खेल की सही जानकारी नहीं होती। जिस कारण वह बेहतर कोचिंग नहीं दे पाता और उसका असर टीम के प्रदर्शन पर पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *