जाट आरक्षण को लेकर हरियाणा पुलिस ने कसी कमर, सख्ती से निपटने की तैयारी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 14 August, 2018

बी. एस. संधु ने जाट आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा 16 तारीख से 9 जिलों में मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री के कार्यक्रमों में बाधा पहुंचाने जैसी सूचना का गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधिकारियों को विशेष निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अधिकारी गांवों में जाकर जाट आरक्षण संघर्ष समिति से जुड़े लोगों को समझाएं और उसके बाद सख्त रूख अपनाएं।

डीजीपी संधु ने कहा कि गांवों में सरपंच, पंच और पंचायत समिति के सदस्यों से बातचीत करें और उन्हें समझाएं कि गांवों में किसी भी प्रकार की कोई घटना हुई तो प्रशासन सख्त रुख अपनाएगा। उन्होंने कहा कि मंडल आयुक्त और पुलिस अधिक्षक जिलों में सुरक्षा इंतजामों पर पूरी निगरानी रखेंगे और परिस्थिति के अनुसार अपने स्तर पर निर्णय लेंगे। उन्होंने 18 तारीख को इनेलो द्वारा बुलाए गए बंद पर भी पुलिस अधिकारियों को परिस्थितिओं के अनुसार सुरक्षा इंतजाम करने के निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी को भी कानून व्यवस्था बिगाडऩे नहीं दी जाएगी, जो भी कानून अपने हाथ में लेगा उस पर स त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि परिस्थितियों को देखते हुए आवश्कतानुसार स्थानीय पुलिस अधिकारी प्री-ए पटिव एक्शन भी ले सकते हैं। डीजीपी ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का जिक्र करते हुए कहा कि विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों के साथ-साथ उन्हें उकसाने वाले भी उतने ही जिम्मेवार होते हैं। इसलिए सभी अधिकारी अपने जिलों में लोगों का समझाएं कि इस तरह की घटनाओं का अंजाम न दें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिलों में दूर्गा शक्ति वाहीनी फोर्स को भी तैयार रखा जाए।

Gurgaon: Huge police force deputed for the security in Gurgaon on Monday due to jat reservation for reservation. PTI Photo (PTI6_6_2016_000172B)

गृह विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हर जिले में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मुख्यमंत्री के जिलों में होने वाले कार्यक्रमों की मॉनिटरिंग मंडल आयुक्त और आईजी स्तर के अधिकारियों द्वारा की जाएगी।

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर ने सरकार का विजन स्पष्ट करते हुए कहा कि सरकार प्रदेश में कानून व्यवस्था को बिगडऩे नहीं देगी और जो कानून व्यवस्था को खराब करने का प्रयास करेगा सरकार उस पर स त से सख्त कार्रवाई करेगी। उन्होंने जिला पुलिस अधिकारियों से कहा कि वे अपने जिलों में स्कूलों और कॉलेजों के प्रंसिपिल से बातचीत कर के छात्राओं को मोबाइल में दूर्गा शक्ति एप डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *