Narnaul- शराब के नशे में दोस्त की गर्दन काट कर फेंकी, अब पुलिस ने 5 लोगों को किया गिरफ्तार

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा

Yuva Haryana, Narnaul

2 फरवरी को सिंघाना रोड नहर के पास पानी की डीग के नजदीक गांव बसीरपुर निवासी अंकित की लाश बिना गर्दन के बरामद हुई थी। जिसमें कल 5 आरोपी नितिन उर्फ़ तन्मय पुत्र रामबीर वासी लहरोदा, जो बदायूं UP ,सच्चित पुत्र अमर सिंह वासी निहाल पूरा , राजस्थान निर्दोष उर्फ बॉस पुत्र ब्रह्मप्रकाश वासी निहाल पूरा बहरोड़ राजस्थान को कल शाम जखराना टोल प्लाजा से गिरफ़्तार किया है व हत्या के बाद तीनो आरोपियों की इनकी मदद व पनाह देने के आरोप में आरोपी अभिमन्यु उर्फ गोलू पुत्र अनिल वासी नया गांव , थाना कोशली जिला रिवाड़ी दीपक पुत्र रामफल वासी शायना थाना कनीना को भी कल कनीना से गिरफ्तार किया है। जिनको आज न्यायालय नारनौल पेश किया गया। न्यायलय से आरोपीयो का 5 दिन पुलिस रिमांड पर दिया है।
पुलिस प्रवक्ता कवर सिंह ने बताया कि बसीरपुर निवासी अंकित की हत्या के आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस अधीक्षक दीपक सहारन ने 3 टीम टीमो का गठन किया गया जिसमे साईबर सेल को भी शामिल किया गया जो तीनों टीमो के संयुक्त प्रयास से इन सभी आरोपियों को क़ल गिरफ्तार किया है। जो बाद गिरफ्तारी आरोपियों से पूछ ताछ पर पता चला कि मृतक अंकित का नारनौल हुड्डा में जिम का कारोबार था जो आरोपी नितिन अंकित के जिम में ट्रेनर के तौर पर कार्य कर चुका था जो तीनों आरोपियों ने दिनांक 31 जनवरी की रात को राधा कृष्णा मैरिज पैलेस में शादी में खाना खाने के बहाना बनाकर मृतक अंकित को अपने साथ लेकर सिंघाना रोड़ नहर के पास आ गए और सभी आरोपियों ने शराब पी जो फिर शराब पीने के बाद किसी बात को लेकर अंकित से झगड़ा हो गया जो आरोपी सच्चित व निर्दोष ने अंकित के हाथ पकड़ लिए नितिन ने चाकू से बार करके अंकित की गर्दन काट कर मौके से फरार हो गए । मृतक की गर्दन आज नहर के नजदीक झाड़ियों से पुलिस ने बरामद की है जिसका पोस्टमार्टम करवाकर DNA टेस्ट के आधार पर मिलान कराया जाएगा कि यह सिर मृतक अंकित का ह या किसी अन्य का है
पुलिस टीम द्वारा तत्परता दिखाकर हत्या की गुत्थी सुलझाने पर पुलिस अधीक्षक श्री दीपक सहारन ने अपनी टीम के कार्य की प्रशंसा की है। टीम में DSP श्री मित्रपाल ,इंस्पेक्टर सन्तोष कुमार प्रबंधक थाना शहर नारनौल ,cia इंचार्ज अनिल कुमार ,चौकी इंचार्ज SI कैलाश चंद व साइबर इंचार्ज विकास शामिल थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *