लक्की ड्रा के नाम पर 60 करोड़ की ठगी करने वाला ठग गिरफ्तार, सात लोगों ने शुरु किया था फर्जीवाड़ा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा
Yuva Haryana
Palwal, 10 July, 2018
लक्की ड्रा के नाम पर 60 करोड़ रुपए की ठगी करने वाली कंपनी SND ग्रुप के मुखिया सुनील को आर्थिक अपराध शाखा पुलिस ने होडल के बाबरी मोड़ से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी सुनील के कब्जे से 50 हजार रुपए भी बरामद किए है। पुलिस ने आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।
गौरतलब है कि गाँव बजादा पहाडी निवासी घनश्याम की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने 20 जुलाई 2017 को धोखाधडी कर लोगों से करोडों रुपये ऐंठने के आरोप में सुनील निवासी गुलावद, गुलशन, हरिओम, नीरज निवासी हसनपुर, राजेश व महेश निवासी लिखी और चरण सिंह हाजीपुर के खिलाफ मुकददमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि वर्ष 2010-11-12-13-14-15 और 16 तक 5100, 7100, 8100 और 11000 सदस्यों के लक्की ड्रा चलाए। ड्रा के जरिये लोगों से करोडों रुपये की वसूली की।
इस प्रकार की वसूली आरोपी सुनील कुमार ने अपने साथी गुलशन कुमार , गुलशन के दो भाई सहित 7 लोगों के साथ मिलकर श्री नारायण दास इंटरप्राईजिज लक्की ड्रा नामक फर्जी कंपनी बनाई। कंपनी में अपने एजेंटों के माध्यम से 18 महीने 1 हजार रुपये प्रति महीना के सदस्य बनाने की एवज में और ड्रा में निकलने वाले सामान पर कमीशन देने का झांसा दिया। कंपनी ने पहली बार 5100, दूसरी बार 7100, तीसरी बार 8100 और चौथी बार 11000 सदस्यों से प्रति महीना 1 हजार रुपये के हिसाब से 18 महीने तक वसूली की।
आपको बता दें की प्रत्येक महीने ड्रा निकाला जाता था। हर महीने निकाले जाने वाले ड्रा पर सदस्यों को इनाम दिया जाता था। जिन सदस्यों का इनाम नहीं निकलता था।  उन्हें 18वें महीने की अंतिम किस्त के दौरान एलईडी या 24 हजार रुपये नकद दिए जाने का झांसा दिया जाता था। कार, बाइक, फ्रिज, एसी, एलईडी और वासिंग मशीन आदि के लालच में सदस्य ग्रामीणों को सदस्य बना कर ठगी करते रहे। इतना ही नहीं  ईमानदारी का चोला ओढने के लिए सभी सदस्यों के बीच ड्रा निकाला जाता था।
ड्रा में निकलने वाले सामान और नकदी को देने की बजाय कह दिया जाता था। कि अगले एक महीने में सभी सामान उनके घर पहुंच जाएगा। विजेताओं को एक महीने तक सामान नहीं मिलता तो वे मांगने जाते। उन्हें समय देकर बार-बार गुमराह किया जाता और अंत में मना कर दिया जाता।
पुलिस जांच अधिकारी राजबीर सिंह ने बताया की आरोपियों ने श्री नारायण दास इंटरप्राईजेज नामक कपंनी बनाकर लक्की ड्रा निकालने का काम शुरू किया कर लोगों से लगभग 60  करोड़ रुपए हड़प लिए । यह लोग पहले लक्की ड्रा में 5100 सदस्य बनाकर 1000 रुपये प्रति माह के हिसाब से 18 महीने तक लेते रहे। ड्रा निकालने के बाद लोगों को उनका इनाम नहीं दिया गया और उनके साथ धोखाधडी करते रहे।
इस मामले में SND ग्रुप के मुखिया सुनील निवासी गुलावद को होडल के बाबरी मोड़ से अरेस्ट कर लिया है। पुलिस ने आरोपी सुनील के कब्जे से 50 हजार रुपए भी बरामद किए है। पुलिस ने आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस ने इस मामले में पहले ही राजेश निवासी मोहम्मद, गुलशन निवासी हसनपुर व महेश निवासी लिखी को गिरफ्तार कर चुकी है और जल्द ही अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *