चोरी की 12 वारदातों को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को जुलाना पुलिस ने दबोचा

Breaking अनहोनी चर्चा में

Yuva Haryana

Julana, 12 Oct, 2018

जुलाना पुलिस ने दो चोरों को गिरफ्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की है। इसके साथ ही जींद में की गई चोरी की 12 वारदातों का भी पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने चोरी की 3 मोटरसाइकिल, लाखों की नगदी व जेवरात भी बरामद किए हैं। इनमें से एक आरोपी नीरज ने तीन महीने पहले ही जेल से बाहर आने के बाद चोरी की वादातों को अंजाम दिया है।

बता दें कि जींद के अलावा रोहतक, भिवानी व हिसार जिलों के गांवों में दिन को रैकी करने के बाद रात को घरों से नगदी व जेवरात चोरी करने की घटनाओं को अंजाम देते थे ये आरोपी। अब पुलसि ने रोहतक के गांव फरमाना निवासी नीरज व हिसार के गांव पेटवाड़ निवासी प्रदीप को जुलाना पुलिस ने काबू किया है।

डीएसपी रामभज व जुलाना थाना प्रभारी रोहतास सिंह ने बताया की उन्हें चोर के बारे में 6 अक्तूबर को सूचना मिली थी। सूचना मिलते ही एएसआई सुरेश कुमार ने अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचकर आरोपी नीरज को गिरफतार कर लिया। नीरज को 7 अक्तूबर को जींद अदालत से पांच दिन के लिए रिमांड पर लिया था ।

रिमांड के दौरान पूछताछ में आरोपी ने स्वीकार किया कि उसने जींद में पिछले कुछ दिनों में कई चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हुए तीन मोटरसाइकिल, जेवरात व नगदी की चोरी की थी । इतना ही नहीं उसने अपने एक साथी प्रदीप पेटवाड़ निवासी के साथ होने की बात कही तो पुलिस ने उसे 7 अक्तूबर को गिरफतार कर अदालत से 4 दिन के लिए रिमांड पर लिया था ।

डीएसपी ने बताया कि  7 चोरी के मालमें जींद, 1 रोहतक, एक हिसार व तीन भिवानी के ट्रेस हुए हैं । 12 ट्रेस किए गए मामलों में पुलिस ने चोरी के तीन मोटरसाईकिल, 11 तोले सोना, 675 ग्राम चांदी, तीन लाख इक्कीस सौ रूपये की नगदी, एक मोबाइल व एक घड़ी बरामद की हैं ।

आरोपी तीन माह पहले चोरी के मामलें में जेल से बाहर आया था। आरोपी के खिलाफ हरियाणा के अलग- अलग थानों में चोरी के 18 मामले दर्ज रहे हैं । बीती दिनों आरोपी नन्दगढ़ गांव में चोरी करके भाग रहा था, तो ग्रामीणों ने उसे पकड़ने का प्रयास किया । भग रहा आरोपी गांव के तालाब में कूद गया, उसके बाद वह सरसा खेड़ी गांव की तरफ भाग रहा था, तो पुलिस ने मौके पर पहुंच कर उसे काबू कर लिया ।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *