कारौर हत्याकांड में शामिल 7 आरोपी गिरफ्तार, आपसी रंजिश में अब तक हो चुकी हैं 19 हत्याएं

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Deepak Khokhar, Yuva Haryana

Rohtak, 14 May, 2018

कारौर हत्याकांड में शामिल 7 आरोपी रोहतक पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं। पुलिस ने आरोपियों से 8 अवैध पिस्तौल व 16 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। ये सभी आरोपी अनिल छिप्पी गैंग के हैं। पुलिस ने छिप्पी को सुनारिया जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लिया है।

छिप्पी की निशानदेही पर ही सभी आरोपी गिरफ्तार हुए हैं। इन आरोपियों पर पहले से ही काफीआपराधिक केस दर्ज हैं। पुलिस की पूछताछ में 15 और आपराधिक केसों का खुलासा हुआ है। कारौर में रंजिश के चलते अब तक दो पक्षों में 19 हत्या हो चुकी हैं।

बता दें कि 27 अप्रैल को रोहतक के कारौर गांव में पूर्व सरपंच भगवान के भाई आनंद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना उस वक्त हुई जब आनंद अपनी पत्नी के साथ कार में सवार होकर खेतों में जा रहा था।

जहां अचानक एक गाड़ी ने उनकी कार को पीछे से टक्कर मार दी थी। जिसके बाद आनंद कार से नीचे उतरकर खेतों की तरफ भागने लगा, तो हमलावरों ने पीछे से उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। हमलावर मौके पर एक मोटरसाइकिल व कार छोड़कर फरार हो गए, जबकि आनंद का हथियार अपने साथ ले गए थे। पुलिस ने 19 आरोपियों के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया था।

इस मामले में पहले से ही आनंद के परिवार ने अनिल छिप्पी के पिता व दो चाचा की हत्या कर रखी है। इसके अलावा आनंद का परिवार गांव के पूर्व प्रधान राजेश की पत्नी व चाची तथा फौजी ढाबा के संचालक की हत्या की वारदात में भी शामिल रहा है। वहीं, अनिल छिप्पी ने अपने साथियो के साथ मिलकर आनंद के पांच भाइयों, 1 रिश्तेदार सहित कुल 8 हत्या की वारदातों को अंजाम दे रखा है।

रोहतक पुलिस की प्रारंभिक जांच में पता चला कि आनंद हत्याकांड में अनिल छिप्पी ने ही साजिश रची है, जो फिलहाल सुनारिया जेल में है और हत्या के एक मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा है। इसी आधार पर पुलिस ने आनंद का प्रोडक्शन वारंट हासिल किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *