अब आसानी से ट्रांसफर कीजिये हाउसिंग बोर्ड के मकान, पॉलिसी तैयार

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana
Panchkula, 29 March 2018

अगर आपके परिवार में किसी के नाम हरियाणा हाऊसिंग बोर्ड का कोई मकान है और आप उसे परिवार में ही किसी सदस्य के नाम ट्रांसफर करवाना चाहते हैं तो अब आपके लिए ऐसा करना आसान हो गया है।
हरियाणा आवास बोर्ड ने आवश्यक फीस और शुल्कों की अदायगी करके मकानों और कमर्शियल सम्पति को ट्रांसफर करने के मानदण्डों को सरल करने के लिए एक नई नीति बनाई है। आबंटियों को अपने फ्लेट्स के सम्बन्ध में की गई डीड भी प्राप्त होगी।
हरियाणा आवास बोर्ड के चेयरमैन जवाहर यादव ने कहा कि यह देखा गया कि आवास बोर्ड की वर्तमान नीतियां काफी सख्त थी और ‘सबके लिए घर’ के उद्देश्य के अनुरूप नहीं थी।
नई नीति की जानकारी देते हुए यादव ने कहा कि परिवार के सदस्यों में टेनेन्सी राइटस के हस्तांतरण को प्रतिबंधित नहीं किया जाएगा और उसे किसी भी व्यक्ति को हस्तांतरित किया जा सकता है।
आबंटियों को एक प्रमुख राहत प्रदान करते हुए उन्होंने कहा कि जनरल पावर ऑफ अटोर्नी (जीपीए) करने पर आधारित रिहायशी इकाइयों के हस्तांतरण के मामले, जहां जीपीए में इस आशय का एक खण्ड शामिल है और अटोर्नी कानूनी, वैध और लागू करने योग्य है, को अनुमति योग्य बनाया गया है। बशर्ते कि अटोर्नी होल्डर को इस आशय का एक शपथ पत्र देना होगा कि आबंटी जीवित है और जीपीए को रदद नहीं किया गया है।

हस्तांतरणकर्ता के लिए कोई पात्रता शर्तें निर्धारित नहीं की गई है, सिवाय कि हस्तांतरणकर्ता की हस्तांतरण करने के समय उसकी आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। यदि पूरी अदायगी अभी की जानी है और एचपीटीए लागू है, तो हस्तांतरण एक से अधिक बार करने की अनुमति दी जा सकती है, बशर्ते आवश्यक फीस की अदायगी कर व औपचारिकताएं पूरी करके दस्तावेज जमा किए जाएं।
रिहायशी मकानों की हस्तांतरण फीस की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 300 वर्ग फुट तक के कवर्ड क्षेत्र वाले आबंटी को हस्तांतरण फीस के रूप में 2000 रुपये की अदायगी करनी होगी। यदि कवर्ड क्षेत्र 300 वर्ग फुट से 700 वर्ग फुट, 700 वर्ग फुट से 1200 वर्ग फुट के बीच और 1200 वर्ग फुट से अधिक के सम्बन्ध में हस्तांतरण फीस क्रमश: 3500 रुपये, 5500 रुपये और 10,000 रुपये होगी। ये दरें सभी श्रेणियों के मकानों के लिए लागू होंगी।
इसके अतिरिक्त, रिहायशी सम्पति के हस्तांतरण के लिए आवास बोर्ड हरियाणा के पक्ष में पंचकूला में देय बैंक ड्राफ्ट के रूप में 500 रुपये की प्रोसेसिंग फीस की अदायगी करनी होगी।
वाणिज्यिक या संस्थागत या गैर-रिहायशी सम्पति के लिए प्रोसेसिंग फीस 10,000 रुपये होगी। हस्तांतरण फीस सम्पति के बिक्री मूल्य का 6 प्रतिशत की दर से वसूल की जाएगी।
आबंटी की मृत्यु होने की स्थिति में हस्तांतरण केवल प्रोसेंसिंग फीस की अदायगी करने पर ही कानूनी उत्तराधिकारियों के पक्ष में किया जाएगा।
दम्पति का नाम शामिल करने के सम्बन्ध में 300 वर्ग फुट तक के कवरड क्षेत्र वाले आबंटी को 1000 रुपये की अदायगी करनी होगी। उन्होंने कहा कि 300 वर्ग फुट से 700 वर्ग फुट, 700 वर्ग फुट से 1200 वर्ग फुट के बीच और 1200 वर्ग फुट से अधिक के कवर्ड क्षेत्र के लिए क्रमश: 2000 रुपये, 3000 रुपये और 5000 रुपये का शुल्क होगा। बहरहाल, किसी भी मुकदमेबाजी के सम्बन्ध में शामिल करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और आबंटन के बाद नाम किसी भी समय शामिल किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *