दलित महिला के गांव में चिपकाए अश्लील पोस्टर, पुलिस भी नहीं कर रही सुनवाई

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Bhagat Tewtiya, Yuva Haryana
Palwal, 22 August, 2018

पलवल के गेलपुर गांव में एक दलित महिला के अश्लील पोस्टर गांव की दीवारों पर चिपकाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि 31 जुलाई की रात को महिला के अश्लील पोस्टर गांव में चिपका दिये गए जिसके बाद पुलिस को इसकी शिकायत दी गई लेकिन अभी तक कोी कार्रवाई नहीं हुई है।

पीड़िता ने बताया आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर वो पिछले 22 दिनों से पुलिस के चक्कर काट रही है लेकिन पुलिस कोई सुनवाई नहीं कर रही है। पीड़िता का आरोप है कि गांव में दबंग लोग हैं जो इस प्रकार की घिनौनी हरकत को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस भी इन आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है।

 

जानकारी के मुताबिक पीड़िता पलवल के बालभवन में सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत है और रोजाना स्कूटी से पलवल अपनी ड्यूटी पर आती और जाती है। अब पोस्टरों में उसे स्कूटी से ही उठाने की बात लिखी गई है।

 

पीड़िता ने बताया कि गांव के ही नरेश नाम का एक शख्स है जो ग्राम पंचायत में मेंबर है और आपको संसद भवन में सुपरवाइजर बताया है वह बीती 23 जुलाई को हमारे दफ्तर में गया था. वहां पर मौजूद स्टाफ से मेरे बारे में जातिसूचक शब्द लेकर पूछा और मेरे बारे में सूचना लेने की कोशिश की।

इस घटना के बाद पीड़िता के पति ने नरेश के साथ बात की तो उस वक्त भी उसने जातिसूचक शब्द बोले और सब कुछ करने की धमकी दी। हालांकि इस घटना के बाद पुलिस को शिकायत दी गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

अगले ही दिन गांव में 25 से ज्यादा जगहों पर पीड़िता के अश्लील पोस्टर दीवारों पर चस्पा कर दिये गए। वहीं पीड़िता के घर के आगे और कार पर भी पोस्टर रात को लगा दिये गए।

इसके बाद पुलिस को शिकायत दी गई, पीड़िता का आरोप है कि वह पिछले कई दिनों से पुलिस के चक्कर काट रही है लेकिन पुलिस की तरफ से ना तो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और जांच की बात कहकर हर बार टाल दिया जाता है।
अब पीड़िता ने एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है। पुलिस अधीक्षक ने इस मामले को कड़ाई से लेते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी के आदेश दिये हैं, लेकिन पीड़िता का आरोप है कि अब भी पुलिस जांच की बात बोलकर आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है और एसपी के आदेशों को भी नहीं मान रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *