Home चर्चा में निजी स्कूलों का ऐलान, गरीब बच्चों का पुराना भुगतान न होने तक नहीं देंगे मुफ्त में दाखिले

निजी स्कूलों का ऐलान, गरीब बच्चों का पुराना भुगतान न होने तक नहीं देंगे मुफ्त में दाखिले

0
0Shares

Yuva Haryana
Haryana 24 March,2018

गरीब बच्चों को मुफ्त में दाखिला देने के विषय पर अब निजी स्कूलों ने खुलकर ये ऐलान कर दिया है कि जब तक पुराना भुगतान नहीं होगा, नहीं करेंगे कोई भी दाखिला।

शिक्षा बचाओ अभियान के तहत 7 अप्रैल को दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रदर्शन की घोषणा भी कर दी है। जिसमें देशभर के स्कूल संचालक, प्रिंसिपल, अध्यापक और अभिभावक शामिल होंगे।

कुलभूषण शर्मा ने दावा किया कि आरटीई की विसंगतियों और गलत शिक्षा नीति के खिलाफ दिल्ली में करीब एक लाख से अधिक स्कूल संचालक और अभिभावक जमा होंगे।

निसा प्रधान ने कहा कि शिक्षा क्षेत्र से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा का अधिकार कानून लाया गया था, लेकिन इसने नई समस्याएं पैदा कर दी हैं।

सरकारी स्कूल में कोई दाखिला लेना नहीं चाहता, जबकि सरकार निजी स्कूलों को चलने नहीं देना चाहती है। सरकार सभी बच्चों को डीबीटी के जरिये वाउचर दे, ताकि वे पसंद के स्कूल में पढ़ सकें।

पंजाब हो या हरियाणा या फिर दूसरे राज्य, कहीं पर भी निजी स्कूल संचालकों को बच्चे मुफ्त पढ़ाने पर रिइंबसमेंट नहीं दी जा रही।
शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने वाउचर सिस्टम लागू करने का भरोसा दिया था, लेकिन इसे लागू नहीं किया।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In चर्चा में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पंचकूला में 9 करोड़ की लागत से बना रोजगार भवन का किया गया उद्घाटन

Yuva Haryana News, Panchkula, 15 July 2020 पंचकूलì…