रोहतक में बच्चों की सुरक्षा के होंगे विशेष इंतजाम, स्विट्जरलैंड का ट्रस्ट करेगा सुरक्षा

Breaking चर्चा में दुनिया देश बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा

Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 26 April, 2018

स्विट्जरलैंड का एक ट्रस्ट रोहतक शहर की सड़कों पर बच्चों की सुरक्षा करेगा। यह परियोजना 1 मई से शुरू होगी और दो साल में दो करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे।यह परियोजना नगर निगम, जिला पुलिस व इंडिया की डब्ल्यूआरआई संस्था के सहयोग से चलेगी।
दुनिया भर में सड़क हादसों में बढ़ोतरी हो रही है और भारत भी इससे अछूता नहीं है। भारत में हर साल करीब 5 लाख सड़क हादसे होते हैं, जिनमें से करीब डेढ़ लाख लोग इन हादसों में मारे जाते हैं।
हादसों का शिकार होने वालों में स्कूली बच्चे भी शामिल होते हैं। ऐसे में सड़कों को बच्चों के लिए सुरक्षित करने के मकसद से परियोजना तैयार की गई है।
स्विट्जरलैंड के ट्रस्ट बोटनर ने ग्लोबल रोड सेफ्टी पार्टनरशिप प्रोग्राम (जीआरएसपी) के तहत विश्व के 6 देशों का चयन किया गया है। इसमें भारत के रोहतक व जोरहट का किया गया है।
यह परियोजना जिला पुलिस, नगर निगम और डब्ल्यूआरआई के संयुक्त तत्वावधान में चलेगी। इसमें शहर की सड़कों के अलावा स्कूल के चारों ओर 5 किमी. एरिया को बच्चों के लिए पूरी तौर पर सुरक्षित किया जाएगा। 
रोहतक के एसपी पंकज नैन ने वीरवार को प्रेस कांफ्रेंस कर परियोजना की विस्तृत जानकारी दी। यह परियोजना रोहतक में दो साल तक चलेगी। इस दौरान सड़कों पर सुधार और डिजाइन आदि की दिशा में काम कर बच्चों के लिए सड़कों पर सुरक्षित चलना सुनिश्चित करेगी।
एसपी ने कहा कि यह परियोजना बच्चों का जीवन सड़क पर सुरक्षित बनाने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *