भारतीय मजदूर संघ व अन्य कई संघों ने लघु सचिवालय पर किया प्रदर्शन, मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Kaithal, 19 June, 2019

कैथल लघु सचिवालय में आज भारतीय मजदूर संघ अन्य कई संघों ने हरियाणा के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों एवं श्रमिकों की जायज मांगों को लेकर प्रदर्शन किया और अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम सौंपा।

गौरतलब है कि हरियाणा के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों की जायज मांगों को लेकर इससे पहले तीन बार वर्ष 2018 में 28 जून, 18 अक्टूबर एवं 13 नवंबर को मांग पत्र दिया था, लेकिन संतोषजनक कार्रवाई न होने पर एक विराट प्रदर्शन किया गया था, इसके उपरांत 4-1-2019 को मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में कई मांगों पर सहमति बनी थी। जिसका आज तक कोई स्थाई समाधान नहीं हुआ, इसलिए सरकार के उदासीन रवैए के कारण मजदूर संघ व अन्य कई संघो ने आज प्रदेश के सभी जिलों में प्रदर्शन करके उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देने का निर्णय लिया।

प्रेस से बातचीत करते हुए अशोक शर्मा विभाग प्रमुख एवं सरकारी कर्मचारी राष्ट्रीय परिषद के प्रांतीय संयोजक ने कहा कि भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश स्तर के नेताओं ने समय-समय पर विज्ञापन में दी गई। मांगों को शांतिपूर्ण ढंग से सुलझाने एवं मनवाने का कई बार प्रयास किया लेकिन, विभाग में बैठे उच्च स्तर के अधिकारियों के नकारात्मक रवैया के कारण कर्मचारियों की कोई मांग नहीं मानी गई। इसी कड़ी में सरकार को इस बारे बार- बार अवगत करवाया लेकिन,सकोई भी हल न निकलने के कारण आज मुख्यमंत्री महोदय के नाम जिला कैथल के उपायुक्त महोदय के माध्यम से ज्ञापन भेजा गया।

कर्मचारियों की मुख्य मांगे इस प्रकार से हैं-

सातवें वेतन आयोग के अनुसार हाउस रेंट 1-1 -2016 से 10 , 20 व  30% किया जाए

वर्ष 2006 के बाद लगे कर्मचारियों पर पुरानी पेंशन स्कीम लागू की जाए

शुगर मिल कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का एरियर जनवरी 2016 से तुरंत दिया जाए व  कच्चे कर्मचारियों की तनखा में 2014 से बढ़ोतरी की जाए

सभी कच्चे कर्मचारियों को पॉलिसी बनाकर पक्का किया जाए बिजली विभाग में मस्टर रोल पर लगे अनुबंधित कर्मचारियों की भांति समान काम समान वेतन तथा सेवा सुरक्षा प्रदान की जाए

एस ऐ  की भर्ती के कारण पुराने अनुबंधित एस ऐ के रोजगार को प्रभावित नहीं किया जाए, भवन एवं सह निर्माण मजदूरों के लिए 1 वर्ष में 90 दिन का कार्य किया जाने का प्रमाण पत्र जारी किया जाये

वर्ष 2018 में ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से लगभग 4 लाख  मजदूरों के रद्द किए गए पंजीकरण को आपत्ति हटाकर पंजीकृत किया जाए

आंगनवाड़ी कर्मचारियों के सेवा नियम एमएचएल में सर्व शिक्षा अभियान की तर्ज पर बनाकर नियमित सम्मान दिया जाए

टैक्स कर्मचारियों को पूर्व की भांति केंद्रीय सहकारी बैंकों में पदोन्नति दी जाए संशोधित वेतनमान दिया जाए हरियाणा परिवहन में वर्ष 2002 तक नियुक्त हुए सभी कर्मचारियों को नियुक्ति तिथि से पक्का किया जाए

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *