हरियाणा की मंडियों में पंजाब और राजस्थान के किसान नहीं बेच सकेंगे फसल, ये है वजह

Breaking खेत-खलिहान चर्चा में देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Chandigarh, 23 March, 2019

हरियाणा से सटे राजस्थान और पंजाब के किसान अब हरियाणा की मंडियों में अपनी फसलें नहीं बेच सकेंगे। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह हरियाणा सरकार द्वारा लागू ‘मेरी फसल मेरा विवरण’ योजना है, जिसके जरिये अब हरियाणा के रजिस्ट्रड किसानों का ही अनाज मंडियों में खरीदा जाएगा।

हरियाणा में किसानों के लिए लागू गई इस योजना के जरिये हरियाणा के किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा पहुंचाने की पहल सरकार की तरफ से की गई है। इस योजना के जरिये किसानों की फसलों का रजिस्ट्रेशन होगा और मंडी में किसानों को फसल बेचने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी।

वहीं इस योजना के लागू होने से अब हरियाणा के पड़ोसी राज्यों के किसानों के लिए आफत बन गई है। उन किसानों की फसलों को अब हरियाणा की मंडियों में नहीं खरीदा जाएगा, जिसका विरोध अब पंजाब के किसान कर रहे हैं।

पंजाब की किसान यूनियन नेताओं ने कहा कि 1992 में गैट समझौते के तहत किसानों को किसी भी प्रदेश में अपनी फसल बेचने का अधिकार है लेकिन अब हरियाणा में बीजेपी की सरकार इस प्रकार के काले कानून लागू कर रही है। ‘मेरी फसल मेरा विवरण’ योजना में सिर्फ हरियाणा के किसानों का ही रजिस्ट्रैशन होता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *