अपने ही मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की गिरफ्तारी चाहती है पंजाब सरकार, कोर्ट में कहा सिद्धू ने ली है जान

अनहोनी देश बड़ी ख़बरें

Yuva Haryana

Chandigarh (13 April 2018)

पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। खुद उन्हीं की सरकार यानी राज्य की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने सिद्धू के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के मामले में सजा को बनाए रखने का समर्थन किया है। पंजाब सरकार की तरह से सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए एडवोकेट ने कहा है कि रोड रेज के मामले में शामिल नहीं होने का सिद्धू का बयान झूठा है।

मामला दिसंबर 1988 का है जब सिद्धू की कार पार्किंग को लेकर एक बुजुर्ग शख्स गुरनाम सिंह से कहासुनी हो गई थी। धीरे-धीरे बात इतनी बढ़ गई कि मामला हाथापायी तक पहुंच गया। बुजुर्ग शख्स के साथ उसका एक रिश्तेदार भी था। जिसने आरोप लगाया था कि झड़प के दौरान सिद्धू ने उसके अंकल को धक्का दिया, जिसके बाद वो बेहोश गए। बेहोश गुरनाम को हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। इसके बाद सिद्धू के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया। सिद्धू के साथ उनके साथ मौजूद उनके दोस्त रुपिंदर सिंह के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ।

इस मामले में सुनावई के दौरान पंजाब सरकार के वकील ने नवजोत सिंह सिद्धू की तीन साल की सजा बरकरार रखने की बात कही है। दलील ये दी गई कि रोड रेज के इस मामले में प्रत्यक्षदर्शी मौजूद था ऐसे में सिद्धू के बयान को सही नहीं माना जा सकता है। अब बारी है सिद्धू के वकीलों की, जो 17 अप्रैल को अपनी दलीले पेश करेंगे। बता दें कि पीड़ित पक्ष ने सुप्रीम कोर्ट में भी इस मामले में याचिका दाखिल कर दी है।

Read This News-

सोनीपत की सीमा पूनिया ने जीता सिल्वर मेडल, लगातार चौथे कॉमनवेल्थ में जीता मेडल

 

 

1 thought on “अपने ही मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की गिरफ्तारी चाहती है पंजाब सरकार, कोर्ट में कहा सिद्धू ने ली है जान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *