एक साथ वोट डालेंगे पंजाब-हरियाणा-चंडीगढ़ के 60 हजार वकील, सभी बार के चुनाव शुक्रवार को

Breaking बड़ी ख़बरें युवा सरकार-प्रशासन हरियाणा

Yuva Haryana

Chandigarh, 05 April 2018

पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के वकीलों के लिए यह शुक्रवार एक खास दिन है। पहली बार होगा जब हरियाणा, पंजाब व चंडीगढ की सभी बार के चुनाव एक ही तारीख को होंगे। बार काउंसिल इसके लिए कई साल से कोशिश कर रही थी और अब आखिरकार पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ की सभी बार असोसिएशन और हाई कोर्ट बार के 6 अप्रैल को एक ही दिन और एक साथ चुनाव होंगे।

ऐसा पहली बार हो रहा है जब दोनों राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के वकील एक साथ वोट डालकर अपने पदाधिकारियों का चुनाव करेंगे।

बार काउंसिल के चेयरमैन विजेन्द्र सिंह अहलावत ने कहा कि बार असोसिएशन तथा बार काऊंसिल के संबंधों में तालमेल दिखाकर चुनाव सुधार की दिशा में न केवल अभूतपूर्व कदम उठाया है बल्कि वकीलों ने नियमों के प्रति प्रतिबद्धता व एकता की मिसाल पेश की है।

इससे पूर्व अलग-अलग तारीखों में चुनाव होते थे जिससे एक वोटर कई-कई जगह वोट डाल सकते थे।

‘एक बार, एक वोट’ के सिद्धान्त व हाई कोर्ट के निर्देश पर बार काउंसिल ने ‘द बार असोसिएशन (कांस्टीट्यूशन रजिस्ट्रेशन) रूल्स 2015 बनाए जिसे पहली बार हाई कोर्ट सहित दोनों प्रदेशों की एवं केंद्र शासित प्रदेश की 172 बार असोसिएशनस ने मानकर 6 अप्रैल को चुनाव करवाने का न केवल निर्णय लिया बल्कि वोटर लिस्ट, चुनाव अधिकारी की नियुक्ति व ‘शेड्यूल ऑफ इलेक्शन’ भी बार काऊंसिल को भेजा।

बार काऊंसिल ऑफ पंजाब हरियाणा से लगभग 94000 वकीलों में से लगभग 60 हजार वकील, हाई कोर्ट सहित पंजाब, हरियाणा व चंडीगढ़ की बार असोसिएशन्स के पदाधिकारियों को चुनने के लिए 6 अप्रैल को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

पंजाब व हरियाणा की उन बार असोसिएशन्स में जहां 6 अप्रैल को चुनाव होने थे, के वकीलों ने सर्वसम्मति से पदाधिकारी चुन लिए हैं। बार कांउसिल ऐसी सभी बार असोसिएशन्स को सम्मानित करेगी। उन्होंने कहा कि सभी स्थानों पर चुनाव निष्पक्ष होंगे तथा बार काऊंसिल में आई सभी शिकायतों का निपटारा निष्पक्ष ढंग से किया जाएगा। भविष्य में सभी बार के चुनाव के एक साथ अप्रैल के प्रथम शुक्रवार को तय होगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *