शादी से पहले दूल्हे के डोप टेस्ट पर पंजाब- हरियाणा सहमत नहीं

Breaking कला-संस्कृति चर्चा में देश बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 19 Sep, 2018

शादी से पहले दूल्हे का डोप टेस्ट अनिवार्य करने के सुझाव पर पंजाब और हरियाणा सरकार ने इस पर असहमति जताई है। हरियाणा सरकार ने कहा है कि दूल्हे के लिए डोप टेस्ट अनिवार्य नहीं होना चाहिए, यह केवल कोर्ट के आदेशों पर ही होना चाहिए। तो वहीं पंजाब सरकार ने कहा है कि होशियारपुर के सिविल अस्पताल में डी एडिक्शन मौजूद है और कोई भी अपनी मर्जी से टेस्ट करवा सकता है।

बता दें कि गृहकलेश और तलाक जैसे मामलों में अधिकतर नशा कारण बताया गया है, जिसके चलते हाईकोर्ट ने सुझाव मांगा था कि कुछ ऐसा किया जाए, ताकि शादी से पहले ही दूल्हे का डोप टेस्ट करवाया जाए।

इस पर चंडीगढ़ प्रशासन ने सहमति जताते हुए कहा था कि अगर दूल्हे को कोई परेशानी नहीं है, तो प्रशासन को इससे किसी भी तरह की कोई आपत्ति नहीं है। प्रशासन इसके लिए किट भी उपलब्ध करवाएगी।

हरियाणा सरकार ने इस विषय को लेकर एक कमेटी बनाई थी, जिसमें चार लोग शामिल किए गए थे। जिन्होंने जवाब दाखिल करते हुए कहा है कि हर जिले में ऐसे सेंटर नहीं बनवाए जा सकते, जहां यह सुविधा उपलब्ध की जाए। इसके साथ ही कोर्ट के आदेश पर ही टेस्ट किए जाएं वह बेहतर रहेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *