चुनाव के साढ़े चार साल बाद राई विधानसभा सीट के 7 बूथों की ईवीएम 15 मई को खुलेगी हाईकोर्ट में

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Sonipat, 22 April, 2019

सोनीपत की विधानसभा सीट पर इनेलो प्रत्याशी इंद्रजीत दहिया याचिका पर चुनाव के साढ़े चार साल बाद हाईकोर्ट ने 7 बूथों की ईवीएम 13 मई तक जमा करवाने के आदेश जारी किए हैं। जिसपर जिला निर्वाचन अधिकारी को सात ईवीएम कोर्ट में ले जानी होगी।

इसके साथ ही एक एक्सपर्ट को भी पेश करना होगा, ताकि 15 मई को कोर्ट रूम में ईवीएम खोली जा सके। इसके बाद ही हाईकोर्ट अपना फैसला सुना सकेगा।

दरअसल, अक्टूबर 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में राई सीट पर कांग्रेस के जयतीर्थ दहिया को 36, 403 व इनेलो के इंद्रजीत दहिया को 36,400 वोट मिले थे। मात्र तीन वोट से हारने वाले इंद्रजीत ने हाईकोर्ट में चुनौती दी। इस पर हाईोकर्ट ने ईवीएम सील करने के आदेश दिए थे।

वहीं, इंद्रजीत के वकील भूपसिंह श्योकंद ने बताया कि इन आदेश की कॉपी डीसी ऑफिस व जिला निर्वाचन अधिकारी को भी दी जा चुकी है। सोनीपत ट्रेजरी में ईवीएम और अन्य दस्तावेज सुरक्षित रखे गए हैं।

बता दे कि इनेलो प्रत्याशी इंद्रजीत ने जयतीर्थ के परिवार और कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दो जगह वोट बनवाने व मतदान करने के आरोप लगाए थे। जयतीर्थ का गांव बढ़खालसा है। बढ़खालसा के बूथ नंबर 83 और कुंडली के बूथ नंबर-131 के पोलिंग ऑॅफिसर्स ने हाईकोर्ट में रिकाॅर्ड पेश किया था।

इसमें दीपचंद व किताब कौर की कुंडली व बढ़खालसा दोनों जगह वाेट मिली। दोनों जगह वोट भी डाली हुई थी। अब दीपचंद की मौत हो चुकी है। मुरथल के रामकिशन, सतेंद्र, दिनेश व नफेसिंह पर भी डबल वोट बनवाने व मतदान करने का आरोप है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *