डेढ घंटे की झमाझम बरसात से शहर हुआ पानी-पानी, लोगों के लिए परेशानी बनी बारिश

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Pradeep Dhankhar, Yuva Haryana

Jhajjar, 2 September 2019

 

बेशक सावन माह में इन्द्र देवता ने अच्छी बरसात न होने की वजह से झज्जर शहर के लोगों को निराश किया हो,लेकिन भाद्रपद महिने में रविवार को आई तेज बरसात ने लोगों को अक्सर सावन में आने वाली झमाझम बरसात की याद जरूर दिला दी। रविवार को अचानक आई तेज बरसात ने पूरे शहर को पानी-पानी कर दिया। शहर का हर चौक-चौराहा पूरी तरह से जलमग्न दिखाई दिया और एक तो छुट्टी का दिन और ऊपर से तेज बरसात आने के बाद शहर के चारों तरफ कई-कई फुट जमा बरसाती पानी ने लोगों को अपने घरों में ही दुबक कर रहने को मजबूर कर दिया।

लोग जहां शहर में जमा बरसाती पानी की निकासी न होने के चलते पालिका व प्रशासन को कोसते नजर आए। वहीं कई लोग तेज बरसात की वजह से उनके घरों में घुसे बरसाती पानी को निकालते भी नजर आए। लोगों का कहना था कि हर साल मानसून बरसात के दिनों में पालिका लाखों रूपए का बजट शहर के नालों की सफाई कराने के नाम पर पास करती है और उसे नालों की सफाई कराने में दिखा भी देती है। लेकिन वह बजट का रूपया वास्तविकता में नालों की सफाई पर लगा या नहीं लगा इस बारे में न तो जिला प्रशासन के अधिकारी ही ध्यान देते है और न ही जन प्रतिनिधि। बरसात के दिनों में अधिकारियों की कार्यवाहीं भी जांच के नाम पर केवल फोटो खिंचवाने तक ही सीमित रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *