सांसद धर्मबीर को मैंने लगाई फटकार, तब बदला बयान- रामबिलास शर्मा

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana
Bhiwani, 07 Feb, 2019
भिवानी महेंद्रगढ़ से बीजेपी सांसद धर्मबीर सिंह को लेकर शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा ने बड़ा बयान दिया है। आज भिवानी में कष्ट निवारण समिति की बैठक में पहुंचे शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि धर्मबीर सिंह के लोकसभा चुनाव लड़ने के बयान पर उनकी डांट का असर है।
रामबिलास शर्मा ने कहा कि लोकसभा या विधानसभा का चुनाव कौन और कहां से लड़ेगा इसका फैसला पार्टी को करना है। उन्होने कहा कि वो खुद भिवानी या विधानसभा चुनाव कहां से लड़ेंगे इसका फैसला भी पार्टी करेगी।
वहीं फौगाट बहनों द्वारा जीन्द उपचुनावों में जेजेपी के लिए प्रचार करने पर उनके लिए की गई घोषणा पूरी ना करने के सवाल पर कहा कि कोई खिलाङी कहीं हो, लेकिन उनको लेकर की गई घोषणा जरूर पूरी होंगी।
भिवानी में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने महिलाओं पर मेहरबानी दिखाते हुए पहली बार अधिकारियों के खिलाफ सख्त दिखे। उन्होने पीड़ित महिलाओं को विभागों द्वारा मदद ना करने पर खुद मदद करने की बात कही और अधिकारियों को जमकर लताङते हुए नाराजगी दिखाई।
बता दें कि पंचायत घर में जिला लोकसंपर्क एवं कष्ट निवारण समिती की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में 16 परिवाद रखे गए। इन परिवादों के साथ बैठक के मुखिया शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने अपनी पार्टी कार्यक्रताओं की भी शिकायतें सुनी। खास बात ये रही कि इस बैठक में शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा महिलाओं के मामलों में भावूक दिखे और अधिकारियों को लताङते हुए खुब नाराजगी दिखाई। साथ ही अधिकारियों व कर्मचारियों को नियमों से पहले इंसानियत दिखाने की बात कही।
पिछली बैठक में लंबित एक मामले पर शिक्षा मंत्री ने एक बार फिर एक एएसआई के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के एसपी को निर्देश दिये। बता दें कि गांव कासनी निवासी सुनीता ने शिकायत दी थी कि उसका पति उसे धोखा देकर विदेश भाग गया और जब वह भारत आया तो पुलिस को सूचना दी लेकिन एएसआई रमेश कुमार ने उसके पिता को गिरफ्तार करने की बजाय दोबारा विदेश भागने में मदद की। हालांकि पुलिस द्वारा कहा गया कि इस मामले में उक्त एएसआई दोषी नहीं, फिर भी शिक्षा मंत्री ने उक्त एएसआई रमेश कुमार को दोषी बताते हुए इस बार भी एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए।
वहीं गांव जाटू लोहारी निवासी मजदूर की विधवा सुदेश देवी द्वारा आर्थिक मदद ना मिलने पर शिक्षा मंत्री संबंधित अधिकारियों पर खूब गरजे। उन्होने एसडीएम सतीश कुमार को तीन दिन में उक्त महिला को आर्थिक मदद देने के निर्देश दिये। उन्होने अधिकारियों को पीङित विधवा महिला की फाईल में कमी निकालने की बजाय इंसानियत दिखानी चाहिए।
वहीं एक पिता द्वारा अपने बेटे के लिए शिक्षा लोन ना मिलने पर खुद मद्द करने का भरोसा दिलाया। इसी दौरान सेक्टर 13 में गंदगी व सांपों को लेकर शिकायत देने लोग सांप की कांचली लेकर पहुंचे। वहीं शिक्षा मंत्री ने गांव मुंढाल में जर्जर हुए लङकियों के प्राथमिक स्कूल को बनाने के लिए डेढ करोड़ रुपये मंजूर किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *