रामपाल केस में तीन महिलाओं को भी उम्रकैद, अब हाईकोर्ट जाएंगे रामपाल पक्ष के वकील

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Vinod Saini, Yuva Haryana
Hisar, 16 Oct, 2018

हिसार के सैट्रल जेल में जज डीआर चालिया ने रामपाल सहित अन्यों का आज सजा का ऐलान किया है। जज ने रामपाल सहित अन्यों को आजीवन कारावास व एक एक लाख रुपये जुर्माना की सजा सुनाई है।
इन लोगों को सुनाई सजा
युवा हरियाणा को मिली जानकारी के मुताबिक इस मामले में सोनीपत के धानाना निवासी संतलोक आश्रम प्रमुख रामपाल, रोहतक के शास्त्री नगर निवासी बिजेद्र उर्फ बिल्लू, हिसार की लक्ष्मी बिहार कालोनी निवासी बबीता, भिवानी के नाथूूवास निवासी निवासी बहन पूनम, जींद की इम्पलाय कॉलोनी निवासी सावित्री, गुरुग्राम के सिकंदरपुर निवासी देवेंद्र, सूरत नगर निवासी अनिल, सिरसा के धिंगतानियां निवासी जगदीश, पानीपत के मछरोली निवासी कुशल सिंह, भिवानी के हम्लौटा निवाली प्रीतम, सोनीपत के भगगांव निवासी राजेंद्र सिंह ,जींद के कंडेला निवासी सतबीर, अमहेडी निवासी सोनूदास व सिरसा के भेरवाल निवासी सुखबीर को आजीवन कारावास व एक एक लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई सुनाई है।
इन धाराओं के तहत मिली सजा
अदालत ने रामपाल सहित अन्यों को मुकदमा नंबर 429 में सजा धारा 302, 120 व 343 आपीसी की धारा के तहत सजा सुनाई है।

किसी प्रकार का कोई तनाव नही था
युवा हरियाणा की टीम को मिली जानकारी के मुताबिक इस दौरान किसी भी प्रकार की कोई तनाव नजर नही आया। सुरक्षा के लिहाज से तीस डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए है डीआईजी और आईटी के साथ 6 आईपीएस अधिकारियों की टीम को नियुक्त किए थे है और दस डीएसपी टीम को नियुक्त किए गए  थे दूसरे जिलो से पुलिस बुलाई गई है जिसमें लगभग 1500 जवानों को तैनात किया था।  हिसार जिले में सुरक्षा के लिहाज से नाके लगाए है चैकिंग अभियान जारी रहेगा। तीन बटालियों को सुरक्षा लिहाज से लगाया है।  रेलवे स्टेशन व बस अड्डों पर पुलि सुरक्षा के कडे इंतजाम किए गए है। सुरक्षा के लिहाज से धारा 144 भी लागू रही। रामपाल के मामले में 17 अक्तूबर को 430 नंबर मुकदमें परभी फैसला आना बाकी है।

रामपाल के अधिवक्ता एके गखड ने बताया कि अदालत ने 302, 120 बी व 343 के धारा के तहत आजीवन कारावास व एक एक लाख रुपये जुर्मान की सजा सुनाई है इन धाराओं के तहत सभी सजाए साथ साथ चलेगी। उन्होंने कहा कि रामपाल संत व अच्छे चलन के व्यक्ति के है इसलिए उन्हे कम से कम सजा दी जानी चाहिए।
रामपाल के सीनियर एडवोकेट एपी सिंह ने बताया कि अदालत ने अलग अलग धाराओं के तहत सभी 15 आरोपोरियों को आजीवन कारावास व एक एक लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर वे हाई कोर्ट में अपील दायर करेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *