प्रदेश की प्राइवेट चीनी मिलों में किसानों के दो सौ करोड़ रुपए बकाया – सुरजेवाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 26 August, 2018

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की कोर कमेटी के सदस्य रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है की भाजपा सरकार और हरियाणा की प्राइवेट चीनी मिलों की मिलीभगत के चलते प्रदेश की प्राइवेट चीनी मिलों में किसानों के दो सौ करोड़ रुपए से ज्यादा बकाया हैं और किसान अपने हक़ को लेने के लिए दर-दर की ठोकर खाने पर मजबूर हैं।

भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए सुरजेवाला ने कहा कि इस सरकार ने पिछले 4 सालों में सिर्फ किसानों को छलने व धोखा देने का काम किया है, जिससे अन्नदाता परेशान हैं। उन्होंने कहा कि​ आय दोगुनी करने के वायदे पर वोट हासिल कर सरकार में आयी भाजपा के राज में आय दोगुनी होना तो दूर यह सरकार चौदह दिनों में गन्ना मूल्य भुगतान के वायदों पर सरकार खरा नहीं उतर रही और उत्तरी हरियाणा के किसान पिछले तीन महीने से अपनी बकाया रकम का इन्तजार कर रहे हैं।

सुरजेवाला ने कहा कि सरकार प्राइवेट चीनी मिलों से केवल नूरा कुश्ती खेल रही है और अब उन्हें वो नोटिस देने का नाटक किया जा रहा है, जो उन्हें दो महीने पहले दे देने चाहियें थे। इस सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण प्राइवेट मिलो में गन्ना डालने वाले किसान-मारे-मारे फिर रहे है। चीनी मिलें किसानों का दो सौ करोड़ रूपए दबाए बैठी हैं, पर किसान आर्थिक तंगी से जूझ रहा है।

सुरजेवाला ने कहा कि कहा कि गन्ना भुगतान के बड़े दावे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर करते हैं लेकिन झूठ की बुनियाद पर टिकी केंद्र और राज्य सरकार का किसानों के हितों से कोई सरोकार नहीं है। इस निकम्मी सरकार की उपेक्षा के कारण हरियाणा के किसानों के लिए मीठा गन्ना कड़वाहट का कारण बन गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का मेहनती किसान,गन्ने की रिकॉर्ड उपज कर हमारा गौरव बढ़ाता है,पर भाजपा सरकार के किसान विरोधी राज में उनका बक़ाया रिकॉर्ड स्तर तक पहुँच जाता है। क्या मोदी जी और खट्टर जी गन्ना किसानों की सुध केवल चुनावी घोषणा के दौरान ही लेते हैं?

सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार का गन्ना किसानों को दिया गया पैकेज महज एक दिखावा था, जिसकी कलई अब पूरी तरह से खुल चुकी है। गन्ना किसानों का आज दो सौ करोड़ रूपया बकाया है।किसान सिर से लेकर पांव तक कर्ज में डूबता जा रहा है, लेकिन भाजपा सरकार किसानों को राहत देने की बजाय अपने कुछ चुनिंदा खास उद्योगपतियों को लाखो करोड़ों का फायदा पहुंचा रही है।

सुरजेवाला ने कहा कि जनता को जात-पात के आधार पर बाँट कर असली मुद्दों से ध्यान हटाकर उनके साथ धोखाधड़ी करना और जुमले गढ़ना ही इस लूट-खसोट सरकार का मूल मंत्र बन गया है। इसका जीता जागता उदाहरण यह है कि प्राइवेट मिलों और सरकार की मिलीभगत के कारण हरियाणा के गन्ना किसानों को उनके बकाया का भुगतान नहीं किया जा रहा है।

सुरजेवाला ने हरियाणा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार प्रदेश के गन्ना किसानों का करोडों रुपये का बकाया का भुगतान करे अन्यथा कांग्रेस पार्टी को सड़क से लेकर विधानसभा तक सरकार के खिलाफ उतरने पर मजबूर होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *