जात-पात की राजनीति करने वाले जनता का काम नहीं कर सकते -सुरजेवाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Jind, 18 Jan, 2019

कांग्रेस के उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि मैं जातपात की राजनीति नहीं करता, जो लोग जाति- पाति की राजनीति करते हैं, वह कभी भी जनता का काम नहीं कर सकते। काम की कोई जात नहीं होती और जात का कोई काम नहीं होता। डॉक्टर, पायलट, ड्राइवर, एमएलए, एमपी व सीएम की कोई जाति नहीं होती। अगर यह जाति पाति समझने लगे तो कोई काम नहीं कर पाएंगे।

सुरजेवाला जींद में अपने धुआंधार प्रचार के दौरान शुक्रवार को जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान शहर के अनेक हिस्सों व गावों में उनका जोरदार स्वागत किया गया व लोगों ने उनको फूलमालाओं से लाद दिया। उन्होंने भगतसिंह मार्केट, पुरानी सब्जी मंडी, जिला बार एसोसिएशन, बाल्मीकि मंदिर, झांज गेट, पंजाबी बाजार, मेन बाजार, बैंक रोड, कपड़ा मार्केट, गोहाना रोड, सफीदों रोड, कृष्णा कॉलोनी, वाल्मीकि बस्ती व हांसी रोड पर सभाओं व डोर टू डोर जनसंपर्क किया।

वकीलों ने रणदीप को अपना समर्थन व्यक्त किया।इस कार्यक्रम में कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष डॉ अशोक तंवर और सुप्रीम कोर्ट के वकील और कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल भी मौजूद रहे। सुरजेवाला ने कहा कि जींद रणदीप से बड़ा है और रणदीप जींद से छोटा, इसलिए जींद की जनता उस व्यक्ति को ही मतदान करें, जिस पर आप विश्वास कर सकते हैं कि वह आपके क्षेत्र की तस्वीर बदल देगा।

मुझे लगता है कि मैं वह आदमी हूं।मैं यह बात केवल वोट बटोरने के लिए नहीं कह रहा, बल्कि 5 बार विधायक के तौर पर रहने के बाद मेरा मेरे हलके में किया गया काम बोल रहा है। सुरजेवाला ने कहा कि जींद इलाके की बदहाल तस्वीर आप लोगों के सामने है। जींद के नागरिक अस्पताल में चिकित्सकों के 56 पद स्वीकृत हैं, लेकिन यहां पर बामुश्किल से 15 चिकित्सक ही कार्यरत हैं। जो अस्पताल स्वयं बीमार है, वह आम लोगों का इलाज कैसे करेगा।

उन्होंने कहा कि जींद के युवाओं को तो खट्टर सरकार ने कच्चे कर्मचारी के पद पर नौकरी के लायक भी नहीं समझा है। यहां पर अधिकांश कच्चे कर्मचारी बाहर के हैं। यह सरकार जींद के युवाओं को 9 हजार की नौकरी के काबिल नहीं समझ रही तो हमारे इलाके के बच्चे आईएएस, आईपीएस, डीएसपी व अन्य पदों पर कैसे पहुंचेंगे। खट्टर सरकार ने नौकरियों के मामले में तो जींद के युवाओं से जमकर भेदभाव किया है। उन्होंने कहा कि स्टेडियम में कोच नहीं है और कॉलेज में प्राध्यापक।

जिससे खेल व पढ़ाई के मामले में जींद इलाके को पीछे करने की साजिश रची जा रही है। सुरजेवाला ने कहा कि पूरा जींद शहर इस सरकार ने उखाड़ रखा है। शहर का ऐसा कोई कोना नहीं, जिसे इस सरकार ने ना तोड़ा हो। इससे जींद के लोगों की मुसीबतें लगातार बढ़ती जा रही हैं। अब चुनाव को नजदीक देखकर सरकार ने सड़क बनाने का काम शुरू कर दिया।

मैं स्वयं मिस्त्री हूं और 15 डिग्री से कम तापमान में अगर सड़क बनाई जाती है तो यह 90 दिन भी नहीं टिक पाती। उन्होंने कहा कि जींद इलाके की तस्वीर मिढ़ा जी, भाजपा के सांसद रमेश कौशिक व चौटाला सरकार में कभी नहीं बदली। चौटाला परिवार तो हमेशा से यहां बदला लेने की बात करता रहा है, लेकिन जींद के विकास की बजाए, इस इलाके में गोलियां चलवाई। अब यह लोग एक दूसरे को नीचा दिखाने में लगे हैं। इनको वोट देना तो टोटे का सौदा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *