हरियाणवी संस्कृति के महाकुंभ रत्नावली का आगाज, कलाकारों ने मोहा भीड़ का मन

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Darshan Kait, Yuva Haryana

Kurukshetra, 26 Oct, 2018

कुरुक्षेत्र में हरियाणवी कला के महाकुंभ रत्नावली का आगाज हो चुका है। आज प्रदेश के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने बतौर मुख्यातिथि पहुंचकर इस महाकुंभ का आगाज किया । इस मौके पर उनको जब पगड़ी बांधी गई तो उनको भी हरियाणवी संस्कृति पर नाज हुआ और उन्होने भी यहां पर पहुंचे कलाकारों को बधाई संदेश दिया।

रत्नावली में अलग अलग यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के 3500 से ज्यादा कलाकार हिस्सा ले रहे हैं। इस कार्यक्रम में अलग-अलग स्टेज पर हरियाणवी प्रस्तुतियों से जहां लोगों को मन मोह रहे हैं तो वहीं कई जगहों पर युवा अलग-अलग पगड़ी में अलग ही अंदाज में घूम रहे हैं। पूरे कुरुक्षेत्र में रत्नावली महोत्सव में रंग लगे हुए हैं।

प्रदेश के अलग-अलग जगहों से पहुंचे हुए युवा और कलाकार इस कार्यक्रम का जमकर लुत्फ उठा रहे हैं. वहीं अलग-अलग जगहों पर युवा छात्र सेल्फी के जरिये खुद की अलग की पहचान बना रहे हैं।

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने संदेश देते हुए कहा कि रत्नावली जैसे अनोखे सांस्कृतिक कार्यक्रमों से एक विशेष प्रकार की अनुभूति होती है। यह एक अनूठा और यादगार उत्सव है। इस उत्सव से युवा पीढ़ी को हरियाणा सांस्कृतिक विरासत से  रूबरू होने  का  मौका मिला और आज युवा पीढ़ी को संस्कृति की पहचान होना बहुत जरूरी है क्योंकि संस्कृति ही देश के प्रति निष्ठा को बनाकर रखती है।

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी  34 वर्षों से आयोजित किए जा रहे इस उत्सव में इस वर्ष 31 विधाओं में 3500 कलाकार प्रस्तुति दे रहे हैं 29 अक्टूबर को समापन समारोह में हरियाणा के शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा समारोह में मुख्यातिथि होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *